डायबिटीज से पीड़ित हैं तो भोजन में इसे करें शामिल, जड़ से खत्म हो जाएगी यह बीमारी

दस में से तीन लोग डायबिटीज के मरीज

By: sanjay sharma

Published: 27 Jun 2018, 05:06 PM IST

मेरठ। आजकल की भागदौड़ भरी जिंदगी में तनाव और ब्लड प्रेशर के कारण लोग डायबिटीज (शुगर) की बीमारी से पीड़ित हो रहे हैं। विश्व और खासकर अपने देश में शुगर के मरीजों की संख्या में दिनोंदिन इजाफा हो रहा है। डब्ल्यूएचओ की रिपोर्ट के अनुसार भारत में दस में से तीन व्यक्ति डायबिटीज से पीड़ित हैं। यह संकेत देश की हेल्थ के लिए खतरा है। इसी कारण चिकित्सक भी अब लोगों को जागरूक करने के लिए ऐसी चीज खाने की सलाह दे रहे हैं, जिससे शुगर तो कंट्रोल रहे ही, साथ ही वह जड़ से भी समाप्त हो सके। 27 जून को विश्व मधुमेह जागृति दिवस के मौके पर चिकित्सकों ने इसे खाने में शामिल करने की सलाह दी है।

यह भी पढ़ेंः झाड़ू को घर में रखेंगे सलीके के साथ आैर करेंगे ये उपाय, तो लक्ष्मी देवी की खूब कृपा बरसेगी

डायबिटीज की रोकथाम राजमा खाने से

चिकित्सक डा. ब्रजभूषण शर्मा के अनुसार अगर हाल ही में आपको डाइबीटिज हुआ है और डॉक्टर ने खाने में कर्इ तरह की मनाही कर दी है, जिसमें आपके कुछ मनपसंद व्यंजन भी होंगे, तो इससे निराश होने की जरूरत नहीं है, अगर आप राजमा खाना पसंद करते हैं तो आपके लिए खुशखबरी है। डा. ब्रज भूषण के अनुसार किडनी बीन्स यानि राजमा खाकर ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल किया जा सकता है। इतना ही नहीं यह राजमा शुगर को जड़ से भी खत्म कर सकता है।

यह भी पढ़ेंः योगी सरकार ने 24 घंटे बिजली देने का किया था वादा, दिन-रात लोग झेल रहे यह परेशानी

डायबिटीज रोगियों के लिए जरूरी क्यों

डायटीशियन डा. पारूल के अनुसार रेड किडनी बीन्स में ग्लिसेमिक इन्डेक्स कम होता है और ऐसे खाद्य विटामिन और फाइबर युक्त होते हैं, लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि ये पूरी तरह से ब्लड ग्लूकोज लेवल को कंट्रोल में कर लेते हैं। रेड किडनी बीन्स में कम प्रोटीन, अच्छे क्वालिटी का कार्बोहाइड्रेड और फाइबर प्रचुर मात्रा में पाया जाता है, जो शुगर या मधुमेह या डाइबीटिज रोगियों के लिए अच्छा विकल्प बन सकता है।

यह भी पढ़ेंः शैलजा की हत्या के बाद यहां रुका था मेजर, यह काम करते समय आया पुलिस की पकड़ में

राजमा इस तरह काम करता है

इसके अलावा इसमें दो तरह के एमिनो एसिड होते हैं, जैसे- आरजनीन और लूसीन जो इन्सुलीन लेवल को कंट्रोल करते हैं। राजमा में एन्टी-ऑक्सिडेंट भरपूर मात्रा में होने के कारण हाई ब्लड शुगर के कारण शरीर के ऑक्सिडेटिव गुणों को जो हानि होती है, उसको सुरक्षित करता है। आहार विशेषज्ञ प्रेमा कोडिकल का मानना है कि एन्टी-ऑक्सिडेंट शुगर रोगी के रक्त में से इन्सुलीन को सोख लेता है। इसमें फैट लो होता है और मधुमेह रोगी के स्वास्थ्य के लिए अच्छा होता है।

Show More
sanjay sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned