सीआरपीएफ के सिपाही पर दुष्कर्म का आरोप, पीड़िता ने आत्मदाह की चेतावनी दी, जांच के आदेश

पढ़ार्इ के लिए दिल्ली जाने के दौरान बस में आरोपी युवक से हुर्इ थी मुलाकात

 

By: sanjay sharma

Updated: 03 Mar 2019, 10:41 AM IST

मेरठ। सीआरपीएफ के सिपाही पर एक युवती ने दुष्कर्म का आरोप लगाया है। पीड़िता का कहना है कि सीआरपीएफ के सिपाही ने उसे शादी का झांसा देकर एक महीने तक दुष्कर्म किया आैर अब दूसरी जगह शादी करने की तैयारी कर रहा है। इस मामले में पीड़िता ने एसएसपी से गुहार लगार्इ है। उसने न्याय नहीं मिलने पर आत्मदाह की चेतावनी दी है। एसएसपी आफिस में शिकायतें सुन रहे एसपी ट्रैफिक संजीव वाजपेयी ने बुलंदशहर के गुलावठी थाना प्रभारी को मामले की जांच कर कार्रवार्इ के निर्देश दिए हैं।

यह भी पढ़ेंः फौजी की पत्नी से लड़ी 'पंडित जी' की आंख तो कर बैठे ये खौफनाक काम, देखें वीडियाे

यह है पूरा मामला

मेरठ के किठौर क्षेत्र की पीड़िता ने इस मामले में एसएसपी आॅफिस पहुंचकर शिकायत की है। दूसरे समुदाय की पीड़िता ने आरोप लगाया कि वह पढ़ार्इ के लिए बस से दिल्ली जाती थी। बस में ही उसकी मुलाकात एक युवक से हुर्इ। उसने खुद को सीआरपीएफ का सिपाही बताते हुए बुलंदशहर के गुलावठी का रहने वाला बताया। युवती का आरोप है कि युवक ने उसके साथ शादी की बात कही। इस दौरान युवक उससे लगातार बातें करता रहा। इसी बीच युवक उसे एक होटल में ले गया आैर दुष्कर्म किया। बाद में युवक ने धर्म बदलकर उससे निकाह कर लिया। फिर उसे कुछ दिन किराए के मकान में रखा। पीड़िता का आरोप है कि युवक उसके साथ कुछ दिन रहा आैर फिर उसे छोड़कर चला गया। जब युवती ने उससे पूछा तो आरोपी सिपाही ने कहा कि कोर्ट मैरिज करने के बाद साथ-साथ रहेंगे। इसके बाद दोनों अपने-अपने घर रहने लगे। आरोपी सीआरपीएफ के सिपाही की दिल्ली में तैनाती बतार्इ गर्इ है।

यह भी पढ़ेंः मौसम विभाग की अगले 36 घंटे के लिए ये चेतवानी, अभी आैर पड़ेगी तेज बारिश आैर बढ़ेगी ठंड

दूसरी शादी की तैयारी कर रहा

पीड़िता का आरोप है कि आरोपी अब दूसरी शादी करने जा रहा है। एसएसपी आफिस में गुहार लगाने पहुंची पीड़िता की शिकायत सुनने के बाद एसपी ट्रैफिक ने थाना प्रभारी को फोन करके जांच करके कार्रवार्इ के निर्देश दिए हैं।

Show More
sanjay sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned