scriptimd issue weather alert temperature will go down in september | Weather Alert: इस बार सितंबर में ही आ जाएगी ठंड, सर्दी तोड़ेगी पुराने रिकॉर्ड | Patrika News

Weather Alert: इस बार सितंबर में ही आ जाएगी ठंड, सर्दी तोड़ेगी पुराने रिकॉर्ड

कड़ाके की ठंड के लिए इस बार रहिए तैया। तापमान जा सकता है 2 डिग्री से नीचे। बोले भूगोलविद ला नीना के सक्रिय होने की पूरी संभावना।

मेरठ

Published: August 04, 2021 11:03:31 am

मेरठ। अभी तक तो लोगों को गर्मी (Summer) से ही परेशानी झेलनी पड़ रही थी। लेकिन अब मौसम विभाग (IMD Weather Alert) ने चेताया है कि ठंड (Winter) का मौसम भी इस बार काफी जोरदार होगा। यानी लोगों को ठंड भी इस बार काफी परेशान करेगी। भूगोलविद् डा कंचन सिंह के मुताबिक इस साल सितंबर के तीसरे सप्ताह से ठंड का अहसास होना शुरू हो जाएगा। ठंड के दिनों में तापमान 2 डिग्री से भी नीचे जा सकता है। मौसम विभाग का भी अनुमान है कि इस वर्ष मौसम अपने सारे रिकॉर्ड तोड़ने को तैयार है। मौसम विज्ञानियों के मुताबिक इस बार ठंड भी जल्द दस्तक देगी।
imd.jpg
यह भी पढ़ें

मौसम विभाग का पूरे यूपी में कई दिनों तक भारी बारिश का अलर्ट, मानसून की रफ्तार तेज

डा कंचन सिंह ने बताया कि अगस्त में अधिक वर्षा,हवा की दिशा में परिवर्तन और समुद्र की सतह का पानी ठंडा होना ला नीना के असर का संकेत कर रहे हैं। इसके कारण इस बार सर्दी जल्दी और काफी पड़ सकती है। उनके मुताबिक अगस्त की वर्षा में आखिरी दिनों में हवा में ठंडक का अहसास होगा। इससे ला नीना के सक्रिय होने की पूरी संभावना है। इसका असर इंडोनेशियाई क्षेत्र, मैक्सिको की खाड़ी, दक्षिणी अमेरिका समेत कई द्वीप पर पड़ेगा। भारत के दक्षिण क्षेत्र और उत्तर पश्चिम में ठंड का जल्द लोगों को अनुभव होगा।
उन्होंने बताया कि ला नीना मानसून का रुख तय करने वाली एक प्रमुख समुद्री भूगोलीय घटना है, जो कि सात से आठ साल में अल नीनो के बाद होती है। अल नीनो में जहां समुद्र की सतह का तापमान बहुत अधिक बढ़ जाता है, वहीं ला नीना में समुद्र की सतह का तापमान कम होने लगता है। इसके पीछे बड़ी वजह हवा की दिशा में बदलाव होना है। इसमें समुद्री क्षेत्रों में हवा की रफ्तार 55 से 60 किमी रहती है। मैदानी क्षेत्रों में यह 20 से 25 किमी की गति से चलती है।
यह भी पढ़ें

UP Weather Update: यूपी के इन 6 जिलों में अगले 24 घंटे भारी बारिश का येलो अलर्ट जारी

भूमध्य रेखा के पास से होता सक्रिय

उन्होंने बताया कि ला नीना भूमध्य रेखा के आसपास प्रशांत महासागर के करीब सक्रिय होता है। इसका असर अन्य महाद्वीपों में नजर आता है। प्रशांत महासागर का सबसे गर्म हिस्सा भूमध्य सागर के नजदीक रहता है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

ससुराल में इस अक्षर के नाम की लडकियां बरसाती हैं खूब धन-दौलत, किस्मत की धनी इन्हें मिलते हैं सारे सुखGod Power- इन तारीखों में जन्मे लोग पहचानें अपनी छिपी हुई ताकत“बेड पर भी ज्यादा टाइम लगाते हैं” दीपिका पादुकोण ने खोला रणवीर सिंह का बेडरूम सीक्रेटइन 4 राशियों की लड़कियां जिस घर में करती हैं शादी वहां धन-धान्य की नहीं रहती कमीकरोड़पति बनना है तो यहां करे रोजाना 10 रुपये का निवेशSharp Brain- दिमाग से बहुत तेज होते हैं इन राशियों की लड़कियां और लड़के, जीवन भर रहता है इस चीज का प्रभावमौसम विभाग का बड़ा अलर्ट जारी, शीतलहर छुड़ाएगी कंपकंपी, पारा सामान्य से 5 डिग्री नीचेइन 4 नाम वाले लोगों को लाइफ में एक बार ही होता है सच्चा प्यार, अपने पार्टनर के दिल पर करते हैं राज

बड़ी खबरें

Uttarakhand Election 2022: रुद्रप्रयाग में अमित शाह ने पूछा, कैसी सरकार चाहिए, विकास या भ्रष्टाचार वाली?शिवराज सरकार के मंत्री ने राष्ट्रपिता को बताया फर्जी पिता, तीन पूर्व पीएम पर भी साधा निशानापूर्व CM अशोक चव्हाण ने किया खुलासा: BJP सांसद मुरली मनोहर जोशी ने रिपोर्ट में खुद कहा 'PM मोदी सेना के साथ खिलवाड़ कर रहे'NeoCov: नियोकोव वायरस के लक्षण, ठीक होने की दर, जानिए सबकुछPandit Jasraj Cultural Foundation: संगीत के क्षेत्र में भी होना चाहिए तकनीक और आईटी का रिवॉल्यूशन: PM ModiCorona: गुजरात में कोरोना को मात दे चुके हैं 10 लाख से अधिक लोगकाशी विश्वनाथ मॉडल पर बनेगा महांकाल कॉरीडोर, सिंहस्थ-28 पर अभी से कामCovid-19 Update: महाराष्ट्र में बीते 24 घंटे में आए कोरोना के 24,948 नए मामले, 103 मरीजों की मौत हुई।
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.