मेरठ नगर निगम की बैठक में वंदे मातरम का हुआ विरोध, राष्ट्रगान के दौरान नारेबाजी

मेरठ नगर निगम की बैठक में वंदे मातरम का हुआ विरोध, राष्ट्रगान के दौरान नारेबाजी

sanjay sharma | Publish: Mar, 14 2018 11:37:33 AM (IST) Meerut, Uttar Pradesh, India

लोक सभा आैर विधान सभा सत्र के दौरान बैठक पर सवाल, स्थगित हुर्इ बैठक

 

मेरठ। नगर निगम बोर्ड बैठक में जमकर हंगामा हुआ। इसमें भाजपा और बसपा पार्षदों में जमकर धक्का-मुक्की आैर नारेबाजी हुई। वंदेमातरम के विरोध आैर राष्ट्रगान के दौरान नारेबाजी से माहौल आैर गरमा गया। टाउन हाल में हुर्इ इस बैठक में भाजपा और बसपा पार्षदों में जमकर टकराव देखने को मिला। बैठक की शुरुआत में ही भाजपा पार्षद ने सवाल किया था कि जब लोक सभा व विधान सभा सत्र चल रहे हों, तो नगर निगम की बैठक क्या हो सकती है, इसके बाद हंगामा बढ़ता चला गया। बाद में इस बैठक को स्थगित कर दिया गया।

यह भी पढ़ेंः इन्होंने खीर आैर काॅफी क्या ली, पहुंच गए अस्पताल, चाची पर लग रहे ये आरोप!

यह भी पढ़ेंः कुख्यात तमंचे के बल पर पुत्रवधू को ले गया अपने साथ...आैर दो दिन तक...!

इस तरह बढ़ता गया हंगामा

लम्बे समय से विकास कार्यों के लिए कम और विवादों के लिए सुर्ख़ियों में चल रहे मेरठ नगर निगम में एक बार फिर हंगामा होता रहा, नगर निगम ने आज बोर्ड बैठक बुलाई थी इस बीच बीजेपी के पार्षदों ने हंगामा किया कि लोक सभा और विधान सभा सदन चलने के दौरान निगम की बैठक नहीं की जा सकती, लेकिन बसपा पार्षद निगम में प्रस्ताव पास कराने पर अड़ गए और बीजेपी के पार्षदों ने बोर्ड बैठक को संवैधानिक नहीं माना। इस बात पर बीजेपी और बसपा पार्षद भिड़ गए और जम कर हंगामा हुआ। साथ ही वंदे मातरम का विरोध व राष्ट्रगान के दौरान नारेबाजी होने से माहौल आैर ज्यादा गरमा गया आैर भाजपा व बसपा पार्षदों में जमकर धक्का-मुक्की हुर्इ। वहीं बसपा की मेयर सुनीता वर्मा ने नगर निगम प्रशासन पर ही आरोप लगाया कि नगर निगम अधिकारियों ने ही बैठक को कहा था और मेयर को बात को नहीं बताया गया कि लोक सभा या विधान सभा का सदन चल रहा हैं, हालांकि हंगामे के बाद बोर्ड बैठक निरस्त कर दी गर्इ।

यह भी पढ़ेंः बिजली के बड़े कनेक्शनों की रीडिंग में हो रहा था बड़ा घालमेल, जिम्मेदार अफसरों पर हुर्इ यह कार्रवार्इ

 

 

 

 

Ad Block is Banned