कोरोना को लेकर अलार्मिग स्टेज पर मेरठ

  • परिवार को रखना है सुरक्षित तो बरते सावधानी
  • बेकाबू हो रहे कोरोना से करें बचाव
  • महज पांच दिन में बढ़ गए कोरोना के एक हजार मरीज

By: shivmani tyagi

Published: 22 Nov 2020, 10:15 PM IST

पत्रिका न्यूज़ नेटवर्क
मेरठ ( meerut news ) महज पांच दिन में कोरोना ( COVID -19 ) के एक हजार से अधिक मरीज मिल चुके हैं और दस लोगों की जान जा चुकी है। इसके बाद भी लोगों में कोरोना के प्रति किसी प्रकार का कोई खौफ देखने को नहीं मिल रहा है। कोरोना से बचाव के लिए शासन स्तर पर नोडल अधिकारी के रूप में केजीएमयू लखनऊ और प्रमुख सचिव ने मेरठ ( Meerut ) में डेरा डाला हुआ है। तमाम कवायदों के बाद भी कोरोना संक्रमण पर लगाम नहीं लग रहा।

यह भी पढ़ें: सहारनपुर में रह रहे बांग्लादेशी नागरिक की पत्नी गिरफ्तार, पूछताछ में किया चाैंका देने वाला खुलासा

अब यदि खुद और अपने परिवार को सुरक्षित रखना है तो इस समय बिल्‍कुल भी लापरवाही बतरना ठीक नहीं है। मौसम सर्द होने के साथ कोरोना वायरस भी बेकाबू हो रहा है। इस महीने महज पांच दिन में ही एक हजार से अधिक केस मिल चुके हैं। आशंका अब इस बात की हैै कि नए केसों का ग्राफ अब बढ़ता जाएगा। शनिवार को कोरोना वायरस संक्रमण की वजह से तीन मौत भी हुई हैं वहीं कोरोना संक्रमण 157 मरीज मिले हैं। मतलब समझ लीजिए किये अलार्मिंग स्‍टेज है। इससे पहले शुक्रवार को भी 200 से अधिक केस मेरठ में मिले थे। अब मेरठ में कुल कोरोना संक्रमितों की संख्‍या 16069 पर पहुंच चुकी है। वर्तमान में एक्टिव केस कुछ बढ़कर 1713 हो गए हैं। मेरठ में अब तक कुल 14007 लोग स्‍वस्‍थ भी हो चुके हैं। शनिवार तक 5364 लोगों के टेस्‍ट हो चुके हैं। ठीक होने की दर मामूली घटकर 91.70 फीसद पर आ चुकी है।


दिल्ली से आने वालों की होगी कोरोना जांच
मेरठ में बढ़ रहे कोरोना संक्रमण का कारण अब दिल्ली से आने वाले लोगों को भी माना जा रहा है। इसलिए अब दिल्ली से आने वाले हर व्यक्ति की कोरोना संक्रमण की जांच की जाएगी। इसके लिए बसों में और रोडवेज स्टैंड पर टीमों की तैनाती की गई है जोकि कोरोना की जांच करेगी।

Corona virus
shivmani tyagi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned