जीत के जश्न में सपाइयों में चल गए लात-घूंसे, कपड़े भी फट गए...

sanjay sharma

Publish: Mar, 14 2018 11:04:04 PM (IST)

Meerut, Uttar Pradesh, India
जीत के जश्न में सपाइयों में चल गए लात-घूंसे, कपड़े भी फट गए...

गोरखपुर आैर फूलपुर लोक सभा उप चुनाव में जीत की खुशी में सपा कार्यालय में एकत्र हुए थे

 

मेरठ। यूपी में फूलपुर और गोरखपुर की संसदीय सीट पर समाजवादी पार्टी के कब्जे के बाद सपा कार्यकर्ताआें में खुशी की लहर दौड़ गई। जश्न मनाने के लिए समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ता कार्यालय पहुंचे, तो फोटो खिंचाने के लिए मारपीट हो गई। सभी कार्यकर्ता डांस कर रहे थे कि अचानक एक-दूसरे पर लात-घूंसे चलाने लगे। सपा कार्यकर्ता आपस में ही भिड़ गए। एक-दूसरे के कपड़े तक पर डाले। जीत का जश्न मनाने के लिए सपा कार्यकर्ताओं ने एक दूसरे को फूल माला लड्डू खिलाए और डांस भी किया। एक दूसरी तस्वीर भी सामने आई जिसमें सपा कार्यकर्ताओं में जमकर मारपीट हुई।

यह भी पढ़ेंः यहां के छात्रों ने नंगे पैर दी परीक्षा, एेसा क्याें हुआ हैरान रह जाएंगे!

यह भी पढ़ेंः मेरठ नगर निगम की बैठक में वंदे मातरम का हुआ विरोध, राष्ट्रगान के दौरान नारेबाजी

सड़कों पर घूमे, मिठार्इ खिलार्इ

गोरखपुर आैर फूलपुर लोक सभा उप चुनाव में जैसे ही नतीजे सपा-बसपा के पक्ष में आए, तो सपार्इ सड़कों पर निकल आए। पूर्व विधायक गुलाम मोहम्मद ने मछेरान स्थित अपने कार्यालय से आसपास के इलाके में जुलूस के साथ घूमे, तो कमिश्नरी पर सपा कार्यकर्ताआें ने मिठार्इ बांटी। सपाइयों का कहना था कि इस जीत से अगले लोक सभा चुनाव में अच्छा प्रदर्शन का रास्ता आसान हो गया है।

विपक्ष एकजुट होने से मिले नतीजे

सपा के कद्दावर नेता और पूर्व कैबिनेट मिनिस्टर रहे शाहिद मंजूर ने इसे गठबंधन की जीत बताया। उन्होंने कहा कि विपक्ष जब एकजुट होता है, तो इस तरीके के नतीजे सामने आते हैं। इस दौरान उन्होंने भाजपा पर वादा खिलाफी का आरोप लगाया उन्होंने कहा कि जनता से जो वादे किए गए थे, वह भाजपा ने पूरे नहीं किए। इसी कारण शिकस्त का मुंह देखना पड़ा।

यह भी पढ़ेंः इन महिलाआें ने श्रीदेवी को दी एेसी श्रद्धांजलि, सब देखते रहे गए!

यह भी पढ़ेंः नवरात्र में बेटी पैदा हुर्इ तो यहां एेसा होगा, जो न कभी सुना आैर न देखा

 

 

 

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

Ad Block is Banned