परिवहन मंत्री ने प्राइवेट कार से पहुंचकर आरटीआे पर मारा छापा तो मच गया हड़कंप, अफसर आैर कर्मचारियों का यह हुआ हाल

परिवहन मंत्री ने प्राइवेट कार से पहुंचकर आरटीआे पर मारा छापा तो मच गया हड़कंप, अफसर आैर कर्मचारियों का यह हुआ हाल

sanjay sharma | Publish: Jul, 14 2018 11:19:54 AM (IST) Meerut, Uttar Pradesh, India

यहां अपने काम के लिए आए लोगों ने परिवहन मंत्री से शिकायतें की

मेरठ। आरटीओ ऑफिस भ्रष्टाचार का अड्डा बना हुआ है। कोई काम बिना पैसे लिए दिए नहीं होता चाहे वह बस की फिटनेस हो लाइसेंस को आरसी हो कोई भी काम हो बिना दलालों को दलाली दिए या बिना बाबुओं को पैसा दिए आरटीओ ऑफिस में कोई काम हो ही नहीं सकता, जिनकी लगातार शिकायतें शासन तक पहुंच रही थी। उसी को लेकर आज प्रदेश के परिवहन मंत्री स्वतंत्र देव सिंह ने अचानक छापेमारी की।

यह भी पढ़ेंः इस तरह रिमोट कंट्रोल से घरों में की गर्इ 30 करोड़ की बिजली चोरी

मंत्री के पहुंचते ही यहां मच गया हड़कंप

परिवहन मंत्री स्वतंत्र देव सिंह प्राइवेट कार से आरटीओ ऑफिस में पहुंचे तो यहां अफसर आैर बाबू इधर से उधर भागने लगे और अपनी-अपनी कुर्सी पर जाकर बैठ गए। आरटीओ कार्यालय के बाहर जितने भी दलाल थे, सब फरार हो गए। मंत्री के आने भर की भनक से छापेमारी के दौरान कई लोगों ने मंत्री जी से शिकायत की कि उनकी आरसी नहीं मिल रही है। लाइसेंस नहीं मिल रहा है बाबू परेशान कर रहे हैं और खास तौर पर नवाब नाम के बाबू का नाम लेकर कहा गया है कि वह काम नहीं कर रहा ड्राइविंग लाइसेंस के नाम पर परेशान किया जा रहा है। इस दौरान आरटीओ के अफसर मंत्री को सफाई देने लगे। अफसर सफार्इ देते रहे।

यह भी पढ़ेंः कांवड़ यात्रा इस तारीख से हो जाएगी शुरू, शासन आैर प्रशासन की इस बार हैं ये विशेष तैयारियां

जल्दी ही सबकुछ हो जाएगा आॅनलाइन

परिवहन मंत्री ने वहीं पर लोगाें की शिकायतों की सुनवार्इ की। उन्होंने अफसरों व कर्मचारियों से कहा कि तुम्हारे कार्यालय में क्या चल रहा है। लोगों की शिकायत पर उन्होंने कहा कि बहुत जल्दी सब कुछ ऑनलाइन हो जाएगा। डिजिटल हो जाएगा। जल्द से जल्द लोगों की समस्या का निवारण होगा। भ्रष्टाचार से राहत मिलेगी आैर जो काम पिछले कई सालों में नहीं हुए, वे उनके कार्यकाल में हर हाल में होंगे। आरटीओ भ्रष्टाचार से पूरी तरह से मुक्त हो जाएगा।

यह भी पढ़ेंः उप मुख्यमंत्री ने प्रदेश की केजी टू पीजी शिक्षा पर दिया बड़ा बयान, इतने शिक्षकों की भी होगी भर्ती

शिकायतें डायरी में भी नोट की

परिवहन मंत्री के अचानक निरीक्षण करने की जानकारी किसी को भी नहीं मिली। जब मंत्री वहां से जाने लगे तो वहां पर कुछ मौजूद लोगों ने उनसे बात की आैर शिकायतें उनके सामने रखी। परिवहन मंत्री ने सभी की शिकायतें अपनी डायरी में नोट कर ली। उनके आैचक निरीक्षण से कर्इ बाबुआें के खिलाफ कार्रवार्इ तय मानी जा रही है।

Ad Block is Banned