सीरम इंस्टीट्यूट में लगी आग में जान गंवाने वालों के परिवारों को 25 लाख का मुआवजा

Highlights

  • दमकलकर्मी ने कुछ ही देर में आग पर काबू भी पा लिया।
  • हादसे में अब तक पांच लोगों की मौत हो चुकी है।

पुणे। पुणे में कोरोना वायरस की वैक्सीन कोविशील्ड बना रही सीरम इंस्टीट्यूट की इमारत के कंपार्टमेंट में एक बार दोबारा से आग लग गई। दमकलकर्मी ने कुछ ही देर में आग पर काबू पा लिया।

इससे पहले गुरुवार को सीरम इंस्टीट्यूट के टर्मिनल 1 गेट के पास भीषण आग लग गई। सीरम इंस्टीट्यूट के मंजरी प्लांट में लगी आग पर करीब दो घंटे में कड़ी मशक्कत के बाद काबू पा लिया गया।

Coronavirus: देश में 10 लाख लोगों ने लगवाया टीका, आज एक भी मौत नहीं

इस हादसे में अब तक पांच लोगों की मौत हो चुकी है। अब तक प्राप्त जानकारी के अनुसार आग सीरम इंस्टीट्यूट के टर्मिनल गेट 1 इमारत के चौथे और पांचवें तल पर लग गई थी। राहत कार्य के लिए एनडीआरएफ की एक टीम बचाव कार्य के लिए सीरम इंस्टीट्यूट में काफी देर लगी रही।

हादसे में मारे गए लोगों में उत्तर प्रदेश के बिपिन सरोज और रमा शंकर, बिहार के सुशील कुमार पांडे, पुणे के महेंद्र इंगले और प्रतीक पाष्टे के नाम शामिल हैं। सीरम इंस्टीट्यूट ने हादसे में मारे गए लोगों के परिवारों के प्रति संवेदना प्रकट की है। उन्हें 25 लाख रुपये का मुआवजा देने का ऐलान किया है।

सीरम इंस्टीट्यूट के चेयरमैन और मैनेजिंग डायरेक्टर सायरस पूनावाला ने बयान जारी कर कहा कि आज सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया में हम सबके लिए एक बेहद ही दुख भरा दिन है।

coronavirus Coronavirus in india
Mohit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned