अखिलेश यादव ने सीएम योगी के बयानों की आलोचना की, कहा-डीएनए का फुलफॉर्म बताएं

Highlights

  • उत्तर प्रदेश में विधानसभा से पहले 'दल-बदल' की होड़ लग गई है।
  • मायावती की सरकार में अफसर रहे रिटायर्ड IPS हरीश कुमार समेत कई नेताओं को सदस्यता दिलाई।

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव के करीब आते ही सियासी सगर्मियां तेज हो चुकी है। प्रदेश में दल बदल की होड़ लगी हुई है। शनिवर को पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने वर्तमान सीएम योगी आत्दियनाथ पर निशाना साधा है। उन्होंने सीएम के बयानों की जमकर आलोचना की है। अखिलेश ने कहा कि सीएम के पद पर रहते हुए उन्हें इस तरह की भाषा का उपयोग नहीं करना चाहिए। वे कहते हैं कि इनके DNA में विभाजन है। सीएम योगी के ज्ञान पर कटाक्ष करते हुए कहा, यदि मुख्यमंत्री DNA का फुलफॉर्म बता दें तो मैं मान जाऊं।

गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश में विधानसभा से पहले 'दल-बदल' की होड़ लग गई है। इसका सबसे अधिक फायदा समाजवादी पार्टी (सपा) को प्राप्त हो रहा है। शनिवार को पूर्व सीएम व सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने बसपा अध्यक्ष मायावती की सरकार में ताकतवर अफसर रहे रिटायर्ड IPS हरीश कुमार सहित कई नेताओं को सदस्यता दिलाई।

योगी बाहरी मुख्यमंत्री, फिर भी लोगों ने अपनाया

अखिलेश यादव ने सीएम योगी आदित्यनाथ को बाहरी कहा। उन्होंने कहा कि सीएम दूसरे प्रदेश के हैं। फिर भी यहां के लोगों ने उन्हें अपनाया है। एक्सप्रेस वे सपा की देन है। बिजली के नाम पर भी सिर्फ सरकार झूठ बोल रही है। सरकार बताए कितने सब स्टेशन बने हैं? बिजली के लिए क्या काम सरकार ने किया? अवैध निर्माण पर हो रही कार्रवाई पर अखिलेश ने कहा कि पूरा लखनऊ अगर चेक किया जाए तो कई नक्शे गलत होंगे। सरकार ने अपने लोगों के नक्शों को कभी जांचा है क्या? किसी भी जिले में किसानों को MSP नहीं प्राप्त हो रही है। भाजपा सरकार ने पुलिस में भ्रष्टाचार बढ़ा दिया है।

Mohit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned