Delhi Election Result 2020: चुनाव नतीजे घोषित होने से पहले बीजेपी ने मानी हार, जानें इसके पीछे का असल सच

  • दिल्ली विधानसभा चुनाव ( Delhi Assembly Election ) 2020 के रुझानों में आम आदमी पार्टी ( AAP ) सरकार बनाती हुई दिख रही है।

नई दिल्ली। दिल्ली विधानसभा चुनाव परिणाम ( Delhi Assembly Election ) के रुझान आ चुके है। अभी तक मिले रूझानों में आम आदमी पार्टी ( Aam Adami Party ) बहुमत हासिल करती नज़र आ रहा है। वहीं इस बार के चुनाव में अपनी जीता का दावा ठोक रही भारतीय जनता पार्टी ( BJP ) पिछड़ती हुई दिख रही है। रूझानों से यह तो साफ हो गया कि दिल्ली में एक बार फिर आम आदमी पार्टी की सरकार बनने जा रही है।

दिल्ली के बीजेपी कार्यालय में सुबह एक पोस्टर लगा हुआ देखा गया, जिसमें गृहमंत्री अमित शाह ( Amit Shah ) की तस्वीर लगी हुई है और पोस्टर पर लिखा है कि विजय से हम अंहकारी नहीं होते और पराजय से हम निराश नहीं होते है। हालांकि यह तस्वीर करीब दो साल पुरानी है। लेकिन हालिया चुनाव रूझानों पर यह पोस्टर एकदम फिट बैठ रहा है।

Delhi Election Result 2020 : आप के मुख्यालय के बाहर लगा नया पोस्टर, लिखा- अच्छे होंगे 5 साल

मतगणना शुरू होने से पहले बीजेपी नेताओं को पूरा यकीन था कि इस बार दिल्ली में वो आम आदमी पार्टी को शिकस्त देंगे। लेकिन उनका ये सपना चकनाचूर हो गया। रुझानों में शुरू से ही आम आदमी पार्टी को बहुमत है। फिलहाल AAP के मुख्यालय में जीत के जश्न मनाया जा रहा है। हालांकि अंतिम परिणाम आना अभी बाकी है।

दिल्ली में आप सरकार की वापसी ने एक बार फिर ये तय कर दिया है कि लोगों ने राजधानी में स्थानीय मुद्दों पर बात करने वाली पार्टी को ज्यादा तरजीह दी। वहीं बीजेपी ( BJP ) के तमाम वादे खोखले साबित हुए इसलिए दिल्ली ( Delhi ) की जनता ने एक दफा फिर बीजेपी को नकार दिया।

2015 के चुनाव में आप को 54.3 प्रतिशत वोट मिले थे। बीजेपी 32.3 प्रतिशत वोट पाकर दूसरे स्थान पर रही थी और कांग्रेस को महज 9.7 प्रतिशत वोट ही नसीब हो पाए थे, साल 2013 के विधानसभा चुनाव में आप ने 28 सीटें जीतकर आठ सीटें जीतने वाली कांग्रेस के सहयोग से सरकार बनाई थी। लेकिन गठबंधन की यह सरकार ज़्यादा समय तक नहीं टिक पाई थी।

Piyush Jayjan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned