दिल्ली: CAIT ने सीएम केजरीवाल से की लॉकडाउन में ढील की मांग, बाजार खोलने को लेकर दिया ये सुझाव

दिल्ली में ऑक्सीजन की कमी से मरने वालों के परिजनोंके 5 लाख रुपए देगी केजरीवाल सरकार, CAIT ने 1 जून से लॉकडाउन में ढील बढ़ाने की अपील की

नई दिल्ली। कोरोना वायरस ( Coronavirus ) की दूसरी लहर के बीच राजधानी दिल्ली में लगाए गए लॉकडाउन ( Lockdown In Delhi ) को लेकर अब व्यापारियों के सब्र का बांध टूट रहा है। कन्फेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स ने दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ( Arvind Kejriwal ) से राष्ट्रीय राजधानी में 1 जून से दुकानें और बाजार खोलने का आग्रह किया है।

सीएआईटी के मुताबिक व्यापारी सभी कोविड प्रोटोकॉल का पालन करेंगे। वहीं सीएआईटी के सचिव ने कहा कि दिल्ली में एक महीने से ज्यादा समय से बाजार बंद हैं, जिसकी वजह से व्यापारियों को आर्थिक संकट से गुजरना पड़ रहा है।

यह भी पढ़ेंः फ्रीज या प्याज में नहीं टिकता Black Fungus, जानिए क्या कहते हैं एक्सपर्ट्स

आपको बता दें कि दिल्ली सरकार उन कोविड-19 रोगियों के परिवारों को 5 लाख रुपए तक की मुआवजा राशि देगी, जिनकी ऑक्सीजन की कमी के कारण मृत्यु हो गई थी। यह राशि कोविड-19 संक्रमण के कारण मरने वालों के परिवारों को पहले से घोषित 50,000 मुआवजे के अतिरिक्त होगी।

सीएआईटी ने दिल्ली में 31 मई या 1 जून से बाजार और दुकानों को खोलने की मांग की है। आपको बता दें कि दिल्ली में प्रमुख रूप से दो तरह के बाजार हैं।

CAIT ने बाजार खोलने के वक्त का दिया ये सुझाव
एक थोक और दूसरा रिटेल बाजार। सीएआईटी का प्रस्ताव है कि दिल्ली में थोक बाजारों को सुबह 10 बजे से शाम 4 बजे तक खोलने की अनुमति दी जाए, जबकि रिटेल बाजारों को दोपहर 12 बजे से शाम 7 बजे तक खोलने की अनुमति दी जाए।

यह भी पढ़ेंः Coronavirus In India: बीते 24 घंटे में कोरोना के नए केस में मिली बड़ी राहत, जानिए क्या रहा आंकड़ा

CAIT ने ये भी दिया प्रस्ताव

बाजार को खोलने के साथ ही सीएआईटी ने एक और प्रस्ताव दिया है। इसके तहत मेट्रो सेवा को समय अनुसार चलाने की मांग की है। ताकि व्यापारियों और उनके कर्मचारियों को यात्रा करने में किसी तरह की कोई परेशानी ना आए।

आपको बता दें कि दिल्ली में कोरोना वायरस के फैलाव को रोकने के लिए लगाए लॉकडाउन के बीच राजधानी में तेजी से नए मामलों में कमी देखने को मिली है। बीते 24 घंटे में दिल्ली में 1072 नए मामले सामने आए हैं।
यही वजह है कि 1 जून से अनलॉक प्रक्रिया को लेकर मांग उठने लगी है।

Arvind Kejriwal
धीरज शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned