Corona Effect : दिल्ली सरकार ने AIIMS के बाहर से रैन बसेरों को हटाया

मध्य प्रदेश के दमोह से छोटी बहन का इलाज कराने आई महिला ने अधिकारियों से पूछा - अब हम कहां जाएं और क्या करें?

नई दिल्ली। देशभर में जारी कोरोना वायरस संक्रमण का कहर आज उन लोगों को पर भी टूटा जिनके परिजन अपनों का इलाज कराने के मकसद से दिल्ली एम्स के बाहर रैन बसेरों में रहते हैं। दरअसल, दिल्ली सरकार ने कोरोना की दूसरी लहर को देखते हुए दिल्ली एम्स के बाहर से रैन बसेरों को हटा दिया है। सरकार के इस कदम से उन लोगों के सामने गंभीर समस्याएं उठ खड़ी हुई हैं जो इन रैन बसेरों में रहकर अपनों का इलाज करा रहे हैं।

छोटी बहन का इलाज कैसे कराएं

ऐसे ही एक मामले में मध्य प्रदेश के दमोह जिले से अपनी छोटी बहन का इलाज कराने आई एक महिला ने बताया कि दिल्ली सरकार के लोगों ने टेंट हटा दिए हैं। अब हम कहां जाएं? कहां रहेंगे? हमें रहने की जगह नहीं मिल रही है। अब हम क्या करे? छोटी बहन का इलाज कैसे कराएं।

कोरोना मरीजों संख्या 1,19,71,624

बता दें कि कोरोन मरीजों की कुल संख्या बढ़कर 1,19,71,624 हो गई है। इनमें से 1,61,552 लोग कोरोना की वजह से अब तक दम तोड़ चुके हैं। वर्तमान में देश के अलग—अलग अस्पतालों में कोरोना के सक्रिय 4,86,310 लोगों का उपचार जारी है। वहीं कोरोना को नियंत्रित करने के लिए राष्ट्रीय स्तर पर जारी टीकाकरण अभियान के तहत 6,02,69,782 लोगों ने वैक्सीन की डोज ली है।

coronavirus COVID-19
Dhirendra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned