भारत के साथ बाइडेन की 4 प्राथमिकताएं: कोरोना, वैश्विक अर्थव्यवस्था, जलवायु परिवर्तन और हिन्द महासागर क्षेत्र को सुरक्षित बनाना

Highlights.

  • - बाइडेन ने बतौर अमरीकी राष्ट्रपति निर्वाचित होने के बाद पहली बार मोदी से की बात
  • - बाइडेन की सत्ता हस्तांतरण टीम ने बताई 4 प्राथमिकताएं, जिन पर भारत के साथ मिलकर होगा काम
  • - मोदी ने 2014 और 2016 में अमरीका की आधिकारिक यात्रा के दौरान बाइडन के साथ हुई मुलाकात को याद किया

नई दिल्ली।

नव निर्वाचित अमरीकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से बातचीत के बाद कहा है कि वे भारत के पीएम के साथ मिलकर काम करने के इच्छुक हैं। कोरोना, वैश्विक अर्थव्यवस्था, जलवायु परिवर्तन और हिंद-प्रशांत क्षेत्र को सुरक्षित बनाए रखने आदि के लिए काम करेंगे। यह जानकारी बाइडन की सत्ता हस्तांतरण टीम ने दी है।
एक दिन पहले मंगलवार को पीएम मोदी ने फोन कर बाइडन व भारतीय मूल की उपराष्ट्रपति कमला हैरिस को बधाई दी थी। चुनावी नतीजे आने के बाद दोनों नेताओं के बीच यह पहली बातचीत थी। बाइडन से बातचीत के दौरान पीएम मोदी ने 2014 और 2016 में अमरीका की आधिकारिक यात्रा के दौरान बाइडन के साथ हुई मुलाकात को याद किया। पीएम ने जो बाइडन से फोन पर बातचीत की जानकारी ट्वीट कर दी थी।

370 अनुच्छेद हटाए जाते समय समय ट्रंप प्रशासन मौन था, लेकिन कमला हैरिस ने 29 अक्टूबर, 2019 को कहा कि हमें कश्मीरियों को याद दिलाना होगा कि वे दुनिया में अकेले नहीं है। हम स्थिति पर नजर रखे हैं। स्थिति बदली तो हस्तक्षेप करने की जरूरत पड़ेगी। हालांकि भारत ने कहा था कि यह भारत का आंतरिक मामला है।

- 48 साल से भारत समर्थक हैं बाइडन

- 1972 में बाइडन पहली बार सीनेट सदस्य चुने गए, तभी से भारत के समर्थक।

- 2008 में द्विपक्षीय असैन्य परमाणु समझौते को सीनेट से मंजूरी दिलाने में अहम भूमिका।

- 2008-16 में उप राष्ट्रपति रहते हुए भारत-अमरीका संबंधों को मजबूत करने में भूमिका निभाई।

- 500 अरब डॉलर तक भारत-अमरीका व्यापार को ले जाने की बात करते रहे हैं बाइडन।

- 2020 में चुनाव अभियान के दस्तावेजों में भारत से साझेदारी बढ़ाने, हर क्षेत्र में भारत के साथ खड़े होने की बात कही है।

- एच1बी वीजा व इमिग्रेशन पर ट्रंप की नीतियां सख्त थीं। अमरीकन फर्स्ट उनकी प्राथमिकता रहा, लेकिन बाइडन उदार रहे हैं। वह एच1बी वीजा संख्या बढ़ा सकते हैं।

Prime Minister Narendra Modi
Ashutosh Pathak
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned