Coronavirus के बढ़ते खतरे के बीच लागू पाबंदियों का दिखने लगा असर, कम हुई संक्रमितों की संख्या

Coronavirus संकट के बीच कर्फ्यू जैसी पाबंदियों को दिखने लगा असर, कहीं संक्रमितों की संख्या में गिरावट हुई दर्ज तो कहीं Vaccination पड़ा धीमा

नई दिल्ली। देशभर में बढ़ रहे कोरोना वायरस ( Coronavirus in india ) खतरे के बीच राहत की खबर सामने आई है। दरअसल कोरोना के बढ़ते खतरों के बीच लगाई जा रही पाबंदियों का असर भी अब दिखने लगा है। उत्तराखंड ( Uttarakhand ) में भी कर्फ्यू का सीधा असर कोरोना मरीजों की संख्या में गिरावट के रूप में देखने को मिल रहा है।

कोरोना संक्रमण के रफ्तार में बीते एक सप्ताह में आए उछाल के बाद प्रशासन ने वीकेंड कर्फ्यू लागू कर दिया था। इसके साथ ही दोपहर बाद बाजार भी बंद कर दिए गए थे। नतीजा चंपावत इलाके में कोरोना संक्रमितों की संख्या में गिरावट दर्ज की है। मंगलवार को महज 32 लोग ही कोरोना संक्रमित मिले।

यह भी पढ़ेँः Coronavirus का बड़ा असर, भारत से सीधी उड़ानों पर अब इस देश ने भी लगाई रोक, जानिए तक नहीं की जा सकेगी यात्रा

कोरोना वायरस की बढ़ती रफ्तार पर कर्फ्यू और वीकेंड लॉकडाउन जैसी पाबंदियों का असर दिखने लगा है। उत्तराखंड के चम्पावत में कोरोना मरीजों की संख्या में खासी कमी देखने को मिली है। यहां बीते 24 घंटे में सिर्फ 32 मरीज ही कोरोना से संक्रमित पाए गए हैं। हालांकि एक बुजुर्ग की होम आइसोलेशन में मौत हो गई।

दरअसल कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर जनपद में बीते हफ्ते में तेजी से बढ़ रही थी। इस दौरान जनपद में सैकड़ों लोग कोरोना की चपेट में आए तो एक दर्जन से अधिक लोगों की मौत हुई।

बढ़ते संक्रमण ने लोगों के साथ प्रशासन की भी चिंता बढ़ा दी थी। कोरोना की बढ़ती रफ्तार पर ब्रेक लगाने के लिए सरकार ने पाबंदियां लगाना शुरू कर दी। रविवार को साप्ताहिक क‌र्फ्यू लगाया तो बाद में दोपहर दो बजे बाजार बंद करने जैसे कड़े नियमों को भी लागू किया गया।

इसका असर यह हुआ कि कोरोना संक्रमण की रफ्तार में ब्रेक लग गया। एसीएमओ डा. श्वेता खर्कवाल के मुताबिक 23 अप्रैल को 166, 24 को 168, 25 को 105 तो 26 अप्रैल को 82 कोरोना संक्रमित मिले। वहीं मंगलवार को जनपद में सिर्फ 32 लोग ही कोरोना संक्रमित मिले। इसमें 26 एंटिजन टेस्ट में तो छह ट्रूनेट जांच में पॉजिटिव मिले।

यह भी पढ़ेँः Corona काल में Indian Railways का यात्रियों को तोहफा, शुरू की कई समर स्पेशल ट्रेनें, जानिए रूट और शेड्यूल

वैक्सीनेशन पड़ा कमजोर
उधर दूसरी तरफ यूपी के कन्नौज में कोरोना संक्रमण के चलते वैक्सीनेशन की रफ्तार धीमी पड़ी है। मंगलवार को 29 लोगों ने ही वैक्सीन लगवाया। कोरोना संक्रमण के बढ़ते खतरे के बीच लोग घरों से बाहर नहीं निकल रहे, यही वजह है कि वैक्सीन सेंटर पर सन्नाटा पसरा रहा।

Coronavirus in india
धीरज शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned