दिल्ली के डिप्टी CM मनीष सिसोदिया का बयान- Lockdown में इसलिए देनी पड़ी ढील

  • दिल्ली में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या में 500 नए मामलों का इजाफा
  • मंगलवार को दिल्ली में कोरोना पॉजिटिव रोगियों की संख्या बढ़कर 10,554 हुई
  • दिल्ली की अरविंद केजरीवाल ने राजधानी में लॉकडाउन 4.0 की गाइडलाइन जारी की

नई दिल्ली। दिल्ली में कोरोना पॉजिटिव ( Corona Positive ) मरीजों की संख्या में 500 नए मामलों का इजाफा हुआ है, जिससे मंगलवार को दिल्ली में कोरोना पॉजिटिव ( coronavirus in Delhi ) रोगियों की संख्या बढ़कर 10,554 हो गई।

इसके साथ ही दिल्ली में कोरोना वायरस ( Coronavirus ) के कारण मरने वालों की संख्या 166 पहुंच चुकी है। वहीं, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ( Delhi CM Arvind Kejriwal ) ने राजधानी में लॉकडाउन 4.0 की गाइडलाइन जारी कर दी है।

दिल्ली सरकार ने लॉकडाउन ( Lockdown 4.0 ) के चौथे चरण में कुछ ढील दी हैं। अब क्योंकि दिल्ली में कोरोना का संक्रमण लगातार बढ़ रहा है, ऐसे में छूट दिए जाने पर विपक्षी पार्टियों ने दिल्ली सरकार पर निशाना साधा है।

आम आदमी पार्टी ( AAP ) सरकार की ओर से दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ( Delhi Deputy CM Manish Sisodia ) ने विपक्षी पार्टियों के सवालों का जवाब दिया है।

स्वास्थ्य मंत्रालय की गाइडलाइन, 1—2 मामलों में पूरी बिल्डिंग को बंद करने की जरूरत नहीं

मनीष सिसोदिया ने कहा कि प्रदेश की अर्थव्यवस्था चरमराई हुई है। सभी तरह की आर्थिक गतिविधियां बंद है।

ऐसे में लॉकडाउन जारी रहा तो लोगों के भूखो मरने की नौबत आ जाएगी। ऐसे लोग सरकारी खाने पर ही निर्भर नहीं रह सकते। वो काम करके खाना चाहते हैं।

इसके साथ अपनी अन्य जरूरतें भी पूरी करना चाहते हैं।

कोरोना वायरस: सोनिया गांधी ने बुलाई विपक्ष की बैठक, अर्थव्यवस्था में गिरावट पर चर्चा संभव

d.png

पंजाब पुलिस ने अकाली नेता के ठिकाने पर की छामेमारी, बड़ी मात्रा में अवैध शराब बरामद

एक सवाल के जवाब में सिसोदिया ने कहा कि दिल्ली कोरोना वायरस की हर तरह की स्थिति से निपटने को पूरी तरह से तैयार है।

सभी तरह की तैयारियां कर ली गई हैं। हॉस्पिटल में बेड की संख्या पर्याप्त् है। प्राइवेट हॉस्पिटल्स को लूप में रखा गया है।

कोरोना वॉरियर्स के लि PPE किट का भी इंतजाम किया गय है। प्रवासी मजदूरों के सवाल पर उन्होंने कहा कि दिल्ली में जो कोई भी रह रहा है, वह हमारे लिए दिल्ली वाला है।

दिल्ली में रह रहे प्रवासियों मजदूरों के लिए पूरे इंतजाम कर दिए गए हैं।

Mohit sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned