Delhi Metro पांच माह बाद दोबारा पटरी पर लौटी, कई बदलावों के साथ शुरू हुआ सफर

Highlights

  • सुबह सात बजे गुरुग्राम के हुडा सिटी सेंटर से समयपुर बदली के लिए पहली मेट्रो सोमवार को रवाना हुई।
  • दिल्ली मेट्रो को 12 सितंबर तक सभी रूटों पर चलाने की योजना है।

नई दिल्ली। कोविड-19 के कारण 169 दिन से बंद दिल्ली मेट्रो आज दोबारा दौड़ पड़ी। सोमवार को सुबह सात बजे से येलो लाइन यानी गुरुग्राम के हुडा सिटी सेंटर से समयपुर बदली के लिए पहली मेट्रो रवाना हुई।

पांच माह से अधिक समय बाद चली मेट्रों को अभी सिर्फ येलो लाइन (समयपुरी बादली से हुडा सिटी सेंटर) पर ही उतारा गया है। यह दो पाली में सुबह और शाम चार-चार घंटे के लिए चलाई जाएगी। इसे धीरे—धीरे खोलने का प्रयास किया जा रहा है। दिल्ली मेट्रो को 12 सितंबर तक सभी रूटों पर चलाने की योजना है। इसके साथ ही परिचालन के टाइम को बढ़ाने की कोशिश होगी।

डीएमआरसी ने इस दौरान संक्रमण को रोकने के लिए जरूरी तैयारियां कर ली हैं। दिल्ली के ज्वाइंट पुलिस कमिश्नर (ट्रैफिक) अतुल कटियार ने बताया कि भीड़ को संभालने के लिए पुलिस बल तैनात किए गए हैं। इसके साथ ही सोशल डिस्टेसिंग और मास्क का भी इंतजाम किया गया है।

स्टेशन पर सीमित संख्या में प्रवेश दिए गए हैं। इस दौरान अंदर आने वाले यात्रियों को खास दूरी बनाकर रखनी होगी। पूरी यात्रा को कैशलेस बनाया गया है। यात्रा के लिए केवल स्मार्ट कार्ड का प्रयोग करना होगा। सभी यात्रियों की थर्मल स्क्रीनिंग होगी। इसके साथ ही सेनेटाइजेशन का भी ध्यान रखा जाएगा।

मास्क जरूरी

मेट्रो स्टेशन पर प्रवेश पाने के लिए फेस मास्क जरूरी होगा। बीमार यात्रियों को प्रवेश नहीं मिल सकेगा। इसके साथ सोशल डिस्टेंसिंग का खास पालन करना होगा। मोबाइल में आरोग्य सेतु एप का होना अनिवार्य है। लिफ्ट में 2 से 3 यात्री को ही प्रवेश की अनुमति होगी।स्टेशन पर कई होर्डिंग के जरिए यात्रियों को जागरूक करने का प्रयास किया जाएगा। सोमवार और मंगलवार को केवल येलो लाइन को खोला जाएगा। सुबह 7 से 11 और शाम 4 से रात 8 बजे तक परिचालन शुरू होगा।

मेट्रो के सफर में ज्यादा समय लगेगा

आम दिनों में मेट्रो 2 मिनट 44 सेकेंट पर मिलती थी। मगर अब वह अब 5 मिनट 44 मिनट पर मिल सकेगी। इससे यात्रियों का सफर बढ़ेगा। मेट्रो ने अपील की है कि स्टेशन पर ज्यादा भीड़ न करें। इसके लिए समय पर यात्रा के लिए निकलें।

लॉकडाउन से मेट्रो फेज चार पर पड़ा असर

महामारी के कारण मेट्रो के कई प्रोजेक्ट रुक गए हैं। उसे राजस्व का तगड़ा नुकसान हुआ है। मेट्रो के फेज चार के निर्माण में देरी हुई है। यह फेज पहले ही काफी देरी का शिकार हो चुका है। अब लॉकडाउन के कारण इसमें और देरी हो सकती है। इस फेज में शिव विहार से मजलिस पार्क, जनकपुरी पश्चिम से आरके आश्रम और साकेत-तुगलकाबाद लाइन शामिल हैं।

Show More
Mohit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned