दिल्ली के zoo में भी बर्ड फ्लू की दस्तक, पिंजरे में मरे मिले उल्लू में संक्रमण पाया गया

Highlights

  • चिड़ियाघर के निदेशक रमेश पांडेय के अनुसार पिंजरों में रखे गए पक्षियों को अलग कर दिया।
  • चिड़ियाघर के भीतर वाहनों की आवाजाही पर पाबंदी लगा दी गई है।

नई दिल्ली। दिल्ली के चिड़ियाघर में बर्ड फ्लू फैलने की बात सामने आई है। चिड़ियाघर के निदेशक रमेश पांडेय ने शनिवार को जानकारी दी है कि चिड़ियाघर में ब्राउन फिश उल्लू अपने पिंजरे में मरा मिला था। उसके नमूनों को जांच के लिए दिल्ली सरकार के पशु पालन इकाई को भेज दिया गया है। उन्होंने बताया कि शुक्रवार को भोपाल स्थित आईसीएआरण् राष्ट्रीय उच्च सुरक्षा पशुरोग संस्थान में आरटीण्पीसीआर पद्धति से जांच की गई। जिसमें एच5एन8 एवियन इनफ्लुएंजा से संक्रमित होने की बात कही गई है।

भारत में कोरोना वैक्सीन में कोविडशील्ड या कोवैक्सीन के बीच क्या है खास अंतर

चिड़ियाघर में बरती जा रही सावधानी

चिड़ियाघर के निदेशक रमेश पांडेय के अनुसार पिंजरों में रखे गए पक्षियों को अलग कर दिया गया है। उनके स्वास्थ्य एवं व्यवहार का निरीक्षण लगातार जारी है। यहां पर दवाओं का छिड़काव भी किया गया है। पक्षियों के पैरों को दिन में नियमित अंतराल पर पोटेशियम परमेगनेट से साफ किया जा रहा है।

चिड़ियाघर में जानवरों को खिलाने के लिए मुर्गियों को लाने पर रोक लगा दी गई है। चिड़ियाघर के भीतर वाहनों की आवाजाही पर पाबंदी लगा दी गई है। कर्मचारियों की भी आवाजाही नियंत्रित है। गौरतलब है कि सोमवार को भी राष्ट्रीय राजधानी के पार्कों और झीलों में मृत मिले कौए और बत्तखों के भी बर्ड फ्लू होने की पुष्टि हुई थी।

केंद्र और दिल्ली सरकार के निर्देशों के अनुसार चिड़ियाघर को रोगाणु मुक्त करने एवं निगरानी को बढ़ा दिया गया है। प्रबंधन की तरफ से हर संभव एेहतियात बरतने की कोशिश जारी है।

Mohit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned