Lockdown2: देश में दो दिनों की वजह से उठी लॉकडाउन बढ़ाने की मांग

  • Corona संकट के बीच स्टेज3 का खतरा
  • देश में दो दिनों तोड़ी Lock Down खुलने की उम्मीद
  • हर तरफ बढ़ने लगी Lockdown2 की मांग

नई दिल्ली। देशभर में कोरोना वायरस ( Coronavirus ) का खतरा लगातार बढ़ता जा रहा है। देश में अब तक कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या 7500 के पार पहुंच चुकी है, जबकि 260 से ज्यादा लोग अपनी जान गंवा चुके हैं। यही वजह है कि कई राज्य सरकारों ने केंद्र की मोदी सरकार ( Modi Govt ) से 21 दिन के लॉकडाउन ( Lock Down ) की अवधि बढ़ाने की अपील की है।

पीएम मोदी ( PM Modi ) ने भी सभी राज्यों के सीएम से बातचीत के बात अब तक लॉकडाउन बढ़ाने को लेकर कोई फैसला नहीं किया है। लेकिन इस बीच देश में अब तक ओडिशा ( Odisha ) , पंजाब ( Punjab ), महाराष्ट्र ( Maharashtra ) , प.बंगाल ( West Bengal ) और तेलंगाना ( Telangana ) समेत पांच राज्य अपने-अपने राज्यों में लॉकडाउन बढ़ा भी चुके हैं।

आपको बात दें कि देश में 9 और 10 अप्रैल दो दिनों की वजह से लॉकडाउन बढ़ाने की मांग उठी है। क्या है इसके पीछे वजह आईए जानते हैं...

देश के बड़े डॉक्टर भी बोले बढ़ना चाहिए लॉकडाउन, जानिए क्या है वजह

84c6bd04b4e22d9539e40071b9235fd6.jpg

देश में कोरोना वायरस से संक्रमित जिन आकड़ों ने सबसे ज्यादा परेशान किया है वो 9 और 10 अप्रैल के हैं। दरअसन इन दो दिनों के आकंड़ों ने देश में कोरोना के स्टेज 3 की आहट को हवा दी है और इसी वजह से लॉकडाउन2 की मांग बढ़ी।

दरअसल 9 अप्रैल को देश में कोरोना संक्रमित लोगों के 787 मामले सामने आए और 10 अप्रैल को 863 मामले आए। इन आंकड़ों ने उस डर को हवा दे डाली कि कहीं देश कोरोना वायरस की तीसरी स्टेज में तो नहीं पहुंच रहा।

आपको बात दें कि 14 अप्रैल को देश में 21 दिन का लॉकडाउन खत्म हो रहा है, लेकिन अब ज्यादातर राज्य चाहते हैं कि लॉकडाउन दो हफ्ते आगे बढ़े।

लॉकडाउन2 लागू हुआ तो घर पर ही मनाने होंगे बड़े त्योहार, जानें किन त्योहारों की चमक होगी फीकी

अप्रैल के 10 दिन में 6000 नए मामले
भारत में COVID-19 से मरने वालों की संख्या लगातार बढ़ती ही जा रही है। पिछले 24 घंटों में 909 नए मामले सामने आए हैं। वहीं इन 24 घंटों में 34 लोगों ने दम तोड़ दिया है। आपको बता दें कि सिर्फ शुक्रवार को देश भर में कोरोना के 859 मामले सामने आए।

जबकि पिछला महीना खत्म होने तक यानी 31 मार्च तक संक्रमण का आंकड़ा 1397 था। यानी अप्रैल के सिर्फ 10 दिनों में ही करीब 6000 मामले सामने आ गए हैं।

12 अप्रैल तक 8356 मामले
वहीं 12 अप्रैल तक देश में कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों की संख्या 8356 तक पहुंच गई है। इसमें 7367 मरीज और 716 ठीक हो चुके मरीज शामिल हैं। जबकि 273 लोगों की मौत हो चुकी है।

मार्च से बढ़ा कोरोना का संक्रमण
देश में मार्च के महीने से कोरोना से तेजी से अपने पैर पसारने शुरू किए। 1 मार्च तक देश में सिर्फ 3 कोरोना के मामले सामने आए थे, जो केरल के थे।

भारत में कोरोना वायरस ने तेजी से फैलना शुरू किया 2 मार्च से, जब तीन नए मामले सामने आए। इनमें एक इटली से भारत लौटा दिल्ली का शख्स था, दूसरा दुबई से घर लौटा तेलंगाना का शख्स था और तीसरा एक इटली का टूरिस्ट था जो राजस्थान के जयपुर घूमने आया था।

2 मार्च से कोरोना वायरस भारत में ऐसा फैलना शुरू हुआ, जो अब तक नहीं रुका है। हर गुजरते दिन के साथ मरीज बढ़ते ही जा रहे हैं। आपको बता दें कि 31 मार्च तक कोरोना वायरस से 35 लोगों की मौत हुई थी। जो 12 दिन में 273 पर पहुंच गई है, यानी सिर्फ 12 दिन में देश में 203 लोग कोरोना की वजह से जान गंवा चुके।

Coronavirus in india
Show More
धीरज शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned