डॉक्टर पॉल का दावा - देश की 80 फीसदी आबादी पर कोरोना का खतरा बरकरार, बरतें सावधानी

 

  • कोविद-19 प्रोटोकॉल का सभी लोग पालन करें।
  • कोरोना का खतरा पहले की तरह आज भी बरकरार।

नई दिल्ली। कोरोना वायरस संक्रमण महामारी के बीच नीति आयोग के सदस्य डॉक्टर वीके पॉल ने बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा है कि कोरोना का कहर दोबारा देखने को मिल सकता है। कोरोना की रफ्तार को देखते हुए यह कहा जा सकता है कि देश की 80 फीसदी आबादी पर इसका खतरा आज भी बरकरार है। उन्होंने कहा कि ये बात सही है कि बहुत जल्द स्वदेशी वैक्सीन बाजार में आने वाली है। इसका मतलब यह नहीं है कि लोग कोरोना वायरस को लेकर लापरवाही दिखाएं।

लोगों की लापरवाही देख आईजी निकले शहर में, कहा- अभी खत्म नहीं हुआ कोरोना-खतरा है बरकरार, फिर बांटे मास्क

संपर्क में आने वालों के लिए भी आइसोलेशन जरूरी

डॉ. वीके पॉल ने कहा कि कोरोना वैक्सीन केवल एक टूल है। इससे पूरी तरह से बचने के लिए सभी को कोविद-19 प्रोटोकॉल का पालन करते रहना चाहिए। नीति आयोग के सदस्य डॉक्टर पॉल का कहना है कि जिस किसी की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आए उसके दो दिन पहले से संपर्क में आए सभी की पहचान और आइसोलेशन जरूरी है। मरीज के संपर्क में आए इन लोगों को 7 दिनों तक क्वारंटीन रहना चाहिए।

Dhirendra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned