पूर्व अमरीकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप मारुति-800 कार से आ रहे शिमला, हिमाचल पुलिस ने दर्ज किया केस

पूर्व अमरीकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप और बालीवुड अभिनेता अमिताभ बच्चन शिमला आ रहे हैं। अब ये दोनों ई-पास कोरोना संकट के दौर में हिमाचल प्रदेश सरकार की कार्यशैली और शिमला प्रशासन की मुस्तैदी पर सवाल खड़े कर रहे हैं।

 

नई दिल्ली।

हिमाचल प्रदेश से एक चौंकाने वाली खबर सामने आ रही है। यहां शिमला प्रशासन के दो ई-पास चर्चा का विषय बने हुए हैं। इसके मुताबिक, पूर्व अमरीकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप और बालीवुड अभिनेता अमिताभ बच्चन शिमला आ रहे हैं। बहरहाल, अब ये दोनों ई-पास कोरोना संकट के दौर में हिमाचल प्रदेश सरकार की कार्यशैली और शिमला प्रशासन की मुस्तैदी पर सवाल खड़े कर रहे हैं। वहीं, विपक्ष ने इस मुद्दे पर सरकार को घेरना शुरू कर दिया है।

बताया जा रहा है कि हिमाचल प्रदेश में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों की वजह से राज्य सरकार ने हिमाचल प्रदेश में आने के लिए ई-रजिस्ट्रेशन को जरूरी कर दिया है, मगर अब यह व्यवस्था सरकार और प्रशासन की कार्य प्रणाली पर सवाल खड़े रही है। ऐसे दो ई-पास जारी हुए हैं, जिसके मुताबिक पूर्व अमरीकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप और बॉलीवुड अभिनेता अमिताभ बच्चन शिमला आ रहे हैं। इन पास की वेलिडिटी सात मई लिखी है।

epass.jpg

ई-पास पर दी गई जानकारी के मुताबिक, सात मई तक की वेलिडिटी के साथ डॉनल्ड ट्रंप चंडीगढ़ से शिमला के सुन्नी आ रहे हैं। इस पास को जरूरी सेवाओं के तहत अनुमति दी गई है। गाड़ी पर चंडीगढ़ का नंबर है। मगर गाड़ी के मॉडल का नाम सुनकर आप हैरान रह जाएंगे। जी हां, जिस गाड़ी कथित तौर पर डॉनल्ड ट्रंप चंडीगढ़ से शिमला के सुन्नी तक का सफर तय करेंगे वह मारुति-800 कार है।

वहीं, एक अन्य पास जो बॉलीवुड अभिनेता अमिताभ बच्चन के नाम पर जारी है, उसकी वेलिडिटी भी सात मई लिखी है। इस ई-पास की लोकेशन भी चंडीगढ़ से शिमला के लिए जारी की गई है। यह जरूरी सेवाओं के जारी हुआ ई-पास है। इस ई-पास में एक चौंकाने वाली बात जो सामने आई है उसके मुताबिक, अमिताभ बच्चन राज्य के स्वास्थ्य मंत्री राजीव सेजल के घर भी जाएंगे। ट्रंप के लिए जहां मारुति-800 कार के इस्तेमाल की बात कही गई है, तो अमिताभ बच्चन के लिए 2010 मॉडल की बीट गाड़ी का नंबर दिया गया है।

यह भी पढ़ें:- 'बंगाल में भाजपा 100 सीट भी नहीं जीतेगी'- यह बताने वाले प्रशांत किशोर ने लिया सन्यास, जानिए अब कौन लेगा उनकी जगह

बहरहाल, ये दोनों ई-पास अब चर्चा का विषय बने हुए हैं। वहीं, विपक्ष ने इसको लेकर सरकार को घेरना शुरू कर दिया है। दूसरी ओर, पुलिस ने इस मामले में जांच कर केस दर्ज करने की तैयारी कर ली है। हिमाचल प्रदेश पुलिस ने सोशल मीडिया पर जानकारी देते हुए कहा कि शिमला पुलिस को फेक ई-पास बनाए जाने की जानकारी मिली है। शिमला पुलिस इस बारे में केस दर्ज कर रही है।

Donald Trump
Ashutosh Pathak
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned