भारतीय निवेश को लेकर विदेश मंत्री ने अफगानिस्तान में व्यापक युद्ध विराम का किया आह्वान

Highlights

  • विदेश मंत्री एस जयशंकर ने कहा कि अफगानिस्तान में भारत भारी निवेश कर रहा है।
  • शांति प्रक्रिया में अफगान का नेतृत्व होना जरूरी है।

नई दिल्ली। भारत के विदेश मंत्री एस जयशंकर ने मंगलवार को अफगान 2020 कॉन्फ्रेंस में कहा कि भारत ने अफगानिस्तान में भारी निवेश किया है। सभी 34 प्रांतों में फैली हमारी 400 से अधिक परियोजनाओं से अफगानिस्तान का कोई भी हिस्सा अछूता नहीं है। ऐसे में भारत देश में हिंसा को रोकने के लिए तत्काल और व्यापक युद्ध विराम का आह्वान करता है। शांति प्रक्रिया अफगान के नेतृत्व वाली, अफगान के स्वामित्व वाली और अफगान नियंत्रित होनी चाहिए।

विदेश मंत्री छह दिवसीय दौरा पर

गौरतलब है कि भारत के विदेश मंत्री एस जयशंकर मंगलवार को बहरीन, संयुक्त अरब अमीरात और सेशेल्स के छह दिवसीय दौरा पर जा रहे हैं। कोरोना वायरस संबंधी महामारी के बीच हो रहे उनके इस दौरे को अहम माना जा रहा है। विदेश मंत्रालय ने कहा कि जयशंकर दौरे की शुरुआत में बहरीन जाएंगे और वहां से वह संयुक्त अरब अमीरात जाएंगे। वह अपने दौरे के अंतिम चरण में सेशेल्स जाएंगे।

Mohit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned