Andhra pradesh: हैदराबाद में बारिश का कहर, Himayat Sagar के 13 गेट खोले गए

  • Heavy Rain के चलते 12 साल बाद खोले गए Himayat Sagar Lake के 13 गेट
  • भारी बारिश की वजह से आंध्र प्रदेश का जन जीवन अस्त व्यस्त

नई दिल्ली। आंध्र प्रदेश ( Andhra pradesh ) में शुरू हुआ भारी बारिश ( Heavy Rain ) का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। यही वजह है कि राज्य के सभी जलाशय पानी से लबालब भर गए हैं। बंगाल की खाड़ी ( Bay of Bengal ) से उठे निम्न वायुदाब की वजह से तेज बारिश के बाद राज्य के अधिकांश जिलों में जनजीवन पूरी तरह से अस्त व्यस्त हो गया है। जानकारी के अनुसार पूर्वी गोदावरी जिले में सर आर्थर कॉटन बैराज ( Sir Arthur Cotton Barrage ) में वर्तमान में 2.91 टन पानी के भंडारण के साथ जलस्तर 44.65 फीट है। इस बैराज की क्षमता 2.93 टीएमसी है, जो 99.35 प्रतिशत तक भर गया है। गोदावरी नदी ( Godavari River )
के बेसिन के नीचे कॉटन बैराज स्थित है।

 

हिमायत सागर लबालब भर गया

वहीं, भारी बारिश के कारण पिछले 10 सालों में ऐसा पहली बार है, जब हिमायत सागर लबालब भर गया है। जल निगम के एक अधिकारी ने जानकारी देते हुए बताया कि बांध से पानी छोड़ दिया गया है। हैदराबाद मेट्रो पॉलिटन वाटर सप्लाई के महा प्रबंधक ने के अनुसार फिलहाल हिमायत सागर का जलस्तर 1762 फुट है और 1763 फुट पार कर गया है। जिसकी वजह से गेट खोल दिए गए हैं। आपको बता दें कि पिछली बार 2010 में हिमायतसागर से पानी छोड़ा गया था। इसके साथ ही जल निगम ने निचले क्षेत्रों में अलर्ट जारी किया है और यहां रह रहे लोगों को सतर्क रहने की सलाह दी है। मूसी नदी के तटीय क्षेत्रों किस्मतपुर, बंड्लागुड़ा, हैदरगुड़ा, लंगर हाउस, कारवान आदि क्षेत्रों के लोगों को अलर्ट रहने को कहा गया है।

 

प्रकाशम बैराज वर्तमान में 56.2 फीट तक भरा हुआ

जानकारी के अनुसार भारी बारिश की वजह से कृष्णा जिले के विजयवाड़ा में प्रकाशम बैराज वर्तमान में 56.2 फीट तक भरा हुआ है। जबकि बैराज की कुल क्षमता 3.07 टीएमसी है। जो क्षेत्रों से आने वाले बाढ़ के पानी से भर जाता है। अभी यह 100 फीसदी क्षमता के साथ भरा हुआ है। अधिकारी बैराज में 6 लाख क्यूसेक अधिक बाढ़ के पानी के बहाव की उम्मीद कर रहे हैं।

Mohit sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned