गुजरात में बीजेपी का जादू बरकरार, कांग्रेस को पीछे छोड़ आप बनी दूसरे नंबर की पार्टी

गुजरात के छह नगर निगमों में वोटों की गिनती जारी है। अब तक आए रूझानों में 37 सीटों पर बीजेपी, जबकि 10 पर कांग्रेस आगे चल रही है। निकाय चुनाव में फिलहाल पोस्टल बैलेट्स की गिनती हो रही है। यहां राजकोट के वोर्ड नंबर 7 में भाजपा की पेनल आगे चल रही हैं.....

नई दिल्ली। गुजरात के छह नगर निगमों में वोटों की गिनती जारी है। अब तक आए रूझानों में 37 सीटों पर बीजेपी, जबकि 10 पर कांग्रेस आगे चल रही है। निकाय चुनाव में फिलहाल पोस्टल बैलेट्स की गिनती हो रही है। यहां राजकोट के वोर्ड नंबर 7 में भाजपा की पेनल आगे चल रही हैं। वहीं अहमदाबाद के दाणीलीमड़ा वोर्ड में फिलहाल कांग्रेस प्रत्याशी आगे हैं।

लालकिला हिंसा मामले में दिल्ली पुलिस को कामयाबी, जम्मू-कश्मीर से गिरफ्तार हुए दो आरोपी

दोनों ही पार्टियों के बीच
गुजरात के स्‍थानीय निकाय चुनाव के लिए वोटों की गिनती शुरू हो चुकी है। यहां मुख्य रूप से सत्ताधारी बीजेपी और विपक्षी कांग्रेस के बीच टक्कर मानी जा रही है। गुजरात निकाय चुनाव के लिए वोटों की गिनती सुबह 9 बजे शुरू हुई थी। यहां छह नगर निगमों में कुल 2,276 उम्मीदवार चुनाव लड़ रहे हैं। इसके अलावा, जूनागढ़ नगर निगम में दो सीटों पर उपचुनाव के लिए नौ उम्मीदवार भी मैदान में हैं। चुनाव लड़ने वालों में बीजेपी से 577, कांग्रेस से 566, आप से 470, एनसीपी से 91, अन्य दलों से 353 और 228 निर्दलीय उम्मीदवार शामिल हैं। राज्य निर्वाचन आयोग के अनुसार, कुल 1.14 करोड़ मतदाता हैं, जिनमें 60.60 लाख पुरुष और 54.06 लाख महिलाएं शामिल हैं।

चीन ने एक बार फिर भारत को दिया चकमा, पैंगोंग से हटाकर सैनिकों को एलएसी के इस इलाके में कर दिया तैनात

कोरोना वायरस महामारी के बीच हुए इन छह नगर निगमों के चुनाव में महज 42.21 फीसदी मतदान दर्ज किया गया था। इनमें अहमदाबाद में सबसे कम 38.73 फीसदी मतदान दर्ज किया गया, जबकि सबसे अधिक 49.86 फीसदी वोट जामनगर में पड़े। इसी तरह, राजकोट में 47.27 फीसदी, भावनगर में 43.66 फीसदी, सूरत में 43.52 फीसदी और वडोदरा में 43.47 फीसदी लोगों ने मताधिकार का उपयोग किया।

देश के कई राज्यों में तेजी से बढ़ रहे कोरोना के नए मामलों को बीच मोदी सरकार ने नया प्लान, वैक्सीनेशन में अब ये होगा काम

गुजरात के 6 महानगरों अहमदाबाद, सूरत, बडोदरा, जामनगर, भावनगर और राजकोट में हुए निकाय चुनाव में मुख्य मुकाबला बीजेपी और विपक्षी कांग्रेस के बीच ही है। यहां इन छह जगहों पर नगर निगमों में बीजेपी का ही शासन रहा है. वहीं आम आदमी पार्टी (आप) ने दावा किया है कि वह बीजेपी और कांग्रेस के सामने एक प्रभावी विकल्प होगी, जबकि असदुद्दीन ओवैसी की ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) पहली बार स्थानीय निकाय चुनाव लड़ रही है।

BJP Congress
Show More
भूप सिंह
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned