scriptHistory of 19 April: भारत ने आज लॉन्च किया था पहला उपग्रह आर्यभट्ट, दिल्ली में कोरोना से हुई थी नवजात शिशु की मौत | History of 19 April: India launched the first satellite Aryabhata | Patrika News

History of 19 April: भारत ने आज लॉन्च किया था पहला उपग्रह आर्यभट्ट, दिल्ली में कोरोना से हुई थी नवजात शिशु की मौत

Published: Apr 19, 2021 10:49:16 am

Submitted by:

Ashutosh Pathak

रूस की मदद से इसरो ने 19 अप्रैल 1975 को अपने पहले उपग्रह आर्यभट्ट को लॉन्च किया था। यह पहला स्वदेशी वैज्ञानिक उपग्रह था।
 

ab.jpg
नई दिल्ली।

अंतरिक्ष के क्षेत्र में आज भारत किसी पहचान का मोहताज नहीं है। भारत हर आधुनिक तकनीक का इस्तेमाल कर अंतरिक्ष में अपनी प्रमुख जगह बना चुका है। इस सफलता को हासिल करने में वैज्ञानिकों को काफी लंबा वक्त लगा, मगर उन्होंने हिम्मत नहीं हारी और सीमित संसाधनों में भी काम करते हुए अपने लक्ष्य को हासिल किया। भारतीय अंतरिक्ष इतिहास में 19 अप्रैल का खास महत्व है।
1975 में आज ही के दिन रूस की मदद से इसरो ने अपने पहले उपग्रह आर्यभट्ट को लॉन्च किया था। यह पहला स्वदेशी वैज्ञानिक उपग्रह था। वहीं, पिछले साल कोरोना की पहली लहर में आज ही के दिन दिल्ली में पहले नवजात की इस महामारी से मौत हो गई थी। आइए जानते हैं देश ही नहीं दुनिया के भी इतिहास में आज की तारीख में दर्ज हुईं कुछ महत्वपूर्ण घटनाएं-
यह भी पढ़ें
-

आज ही के दिन शहीद हुए थे तात्या टोपे, पढि़ए उनके जीवन से जुड़े कुछ रोचक तथ्य

1451- बहलोल लोधी ने दिल्ली पर कब्जा किया था।
1770- कैप्टन जेम्स कुक आस्ट्रेलिया पहुंचे, वह यहां आने वाले पहले पश्चिमी व्यक्ति थे।
1775- अमरीकी क्रांति की शुरुआत हुई थी।
1882- कोलकाता में पहला प्रसूति अस्पताल खुला।
1910- पहली बार सामान्य तौर पर हेली पुच्छल तारे को देखा गया।
1919- अमरीका के लेस्ली इरविन ने पैराशूट से पहली बार छलांग लगाई।
1936- फिलीस्तीन में यहूदी विरोधी दंगे शुरू हुए।
1950- श्यामा प्रसाद मुखर्जी ने केंद्रीय मंत्रिमंडल से इस्तीफा दिया। वह ऐसा करने वाले पहले मंत्री बने।
1971- भारत ने वेस्टइंडीज को हराकर टेस्ट क्रिकेेट शृंखला जीती।
1972- बांग्लादेश राष्ट्रमंडल का सदस्य बना।
1975- भारत ने अपना पहला उपग्रह आर्यभट्ट लॉन्च किया।
2011- क्यूबा के पूर्व राष्ट्रपति फिदेल कास्त्रो ने कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ क्यूबा की केंद्रीय समिति से इस्तीफा दिया। वह 45 वर्ष तक इस समिति में रहे।
2020- कोरोना वायरस से दिल्ली में पहले नवजात शिशु की मौत हुई।
loksabha entry point

ट्रेंडिंग वीडियो