script आज का इतिहासः 1980 में विमान हादसे में संजय गांधी की हुई थी मौत, भारतीय राजनीति में थी दबंग नेता के रूप में पहचान | History of June 23 Congress Leader Sanjay Gandhi dies in Plan Crash | Patrika News

आज का इतिहासः 1980 में विमान हादसे में संजय गांधी की हुई थी मौत, भारतीय राजनीति में थी दबंग नेता के रूप में पहचान

locationनई दिल्लीPublished: Jun 23, 2021 08:25:53 am

संजय गांधी दिल्ली फ्लाइंग क्लब का एक नया विमान उड़ा रहे थे, इस दौरान एक एरोबेटिक स्टंट करते समय उन्होंने नियंत्रण खो दिया और उनका विमान दुर्घटनाग्रस्त हो गया।

History of June 23 Congress Leader Sanjay Gandhi dies in Plan Crash
History of June 23 Congress Leader Sanjay Gandhi dies in Plan Crash
नई दिल्ली। देश-दुनिया के इतिहास में कई बार कुछ घटनाएं ऐसी हुईं जिन्होंने अपना गहरा असर तो छोड़ा ही साथ ही हवाओं का रुख भी मोड़ दिया। एक ऐसी ही घटना ने भारतीय राजनीति में हलचल मचा दी थी। 23 जून 1980 को देश ना सिर्फ एक विमान हादसे का गवाह बना बल्कि इस हादसे ने देश की राजनीति पर भी गहरा असर डाला।
विमान दुर्घटना में देश की पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी के छोटे पुत्र संजय गांधी ( Sanjay Gandhi ) का निधन हो गया। संजय गांधी को इंदिरा गांधी के राजनीतिक उत्तराधिकारी के तौर पर देखा जाता था, लेकिन उनके निधन से देश की सियासी हवाएं पूरी तरह बदल गईं।
यह भी पढ़ेँः मोदी कैबिनेट के विस्तार की अटकलें तेज, आज केंद्रीय मंत्रिमंडल की अहम बैठक

संजय गांधी को मई 1980 में कांग्रेस का महासचिव नियुक्त किया गया था, जिसके ठीक एक महीने बाद हवाई दुर्घटना में उनकी मृत्यु हो गई। हादसे के वक्त संजय गांधी दिल्ली फ्लाइंग क्लब का एक नया विमान उड़ा रहे थे। इस दौरान एक एरोबेटिक स्टंट करते समय उन्होंने नियंत्रण खो दिया और उनका विमान दुर्घटनाग्रस्त हो गया।
संजय गांधी के सिर में चोट लगने से उनका निधन हुआ था। इस दौरान विमान में संजय गांधी के साथ मौजूद एक मात्र शख्स कैप्टन सुभाष सक्सेना की भी मौत हो गई थी।
तीन महीने के थे वरुण गांधी
संजय गांधी ने साल 1974 में 23 सितंबर के दिन मेनका गांधी से शादी के बंधन में बंधे थे। विमान हादसे के दौरान जब संजय की मौत हुई उस वक्त उनके बेटे वरुण गांधी महज तीन महीने के ही थे।
भारतीय राजनीति में दबंग नेता के रूप में पहचान
संजय गांधी ने भारतीय राजनीति में बतौर दबंग नेता के तौर पर ही अपनी पहचान बनाई थी। खास तौर पर देश में लगे आपतकाल के दौरान संजय गांधी की अहम भूमिका रही।
संजय गांधी को इंदिरा गांधी के उत्तराधिकारी और कांग्रेस के भविष्य के तौर पर देखा जाने लगा था। संजय हादसे का शिकार ना होते तो राजीव गांधी की भी राजनीति में एंट्री नहीं होती।
खुशवंत सिंह की किताब 'एब्साल्यूट खुशवंत' में लिखा है कि उनकी मौत के बाद इंदिरा और मेनका के रिश्ते में खटास आ गई थी, जिसके बाद मेनका ने घर छोड़ दिया और राजनीति में अपनी एक अलग पहचान बनाई।
जनता कार का सपना
संजय गांधी जनता के लिए एक ऐसी कार लाना चाहते थे, जो ज्यादा से ज्यादा लोग खरीद सकें। मारुति कार की भारत में एंट्री का क्रेडिट भी संजय गांधी को ही जाता है।
विवादिय फैसलों से बंटोरी सुर्खियां
संजय गांधी ने कुछ विवादित फैसलों से सुर्खियां भी बंटोरीं। इनमें तुर्कमान गेट पर मलिन बस्ती हटाने के लिए बुलडोजर चलवा कर गोलियां चलवाना। नसबंदी कार्यक्रम के लिए जबरदस्ती करना जैसे कुछ फैसले शामिल थे।
एयर इंडिया विमान हादसे में 329 ने गंवाई जान
23 जून का दिन एक अन्य विमान हादसे का भी गवाह है। 1985 में वह 23 जून का ही दिन था, जब एयर इंडिया का एक यात्री विमान आयरलैंड तट के क़रीब हवा में दुर्घटनाग्रस्त हो गया था और 329 यात्रियों की मौत हो गई थी। हादसे के समय विमान अपने गंतव्य हीथ्रो हवाई अड्डे से मात्र 45 मिनट की दूरी पर था।
यह भी पढ़ेँः महबूबा का पाकिस्तान प्रेम! तालिबान से हो सकती है बात तो पाक से क्यों नहीं?

23 जून के इतिहास से जुड़ी कुछ और घटनाएं

2016 : ब्रिटेनवासियों ने यूरोपिय संघ से अलग होने के पक्ष में वोट दिया। पक्ष में 51.9 फीसदी और विरोध में 48.1 फीसदी वोट पड़े
2013 : अमरीका के ग्रांड कैनयॉन की पहाड़ी को रस्सी पर चलकर पार करने वाले निक वाल्लेंडा पहले शख्स थे
1996 : शेख हसीना ने बतौर बंगलादेश प्रधानमंत्री पद की शपथ ली
1994 : संयुक्त राष्ट्र आम सभा ने दक्षिण अफ़्रीका की सदस्यता को मंजूर किया
1994 : उत्तरी कोरिया ने परमाणु कार्यक्रम पर रोक की घोषणा की
1960 : जापान और अमेरिका के बीच सुरक्षा समझौता
1953 : जनसंघ के संस्थापक श्यामा प्रसाद मुखर्जी का कश्मीर के एक अस्पताल में निधन
1761 : मराठा शासक पेशवा बालाजी बाजी राव का निधन
1661 : सम्राट चार्ल्स द्वितीय का पुर्तगाल की राजकुमारी से विवाह, पुर्तगाल ने बतौर दहेज बम्बई को ब्रिटेन को सौंपा

ट्रेंडिंग वीडियो