India-China Standoff: LAC के उस पार हेलिकॉप्टरों का आना-जाना तेज, बॉर्डर पर अलर्ट

-India-China Standoff Update: लद्दाख में गलवान घाटी ( Galvan Valley ) में भारत-चीन सेना के बीच तनाव बढ़ता जा रहा है।
-सोमवार को लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल ( LAC ) पर हिंसक झड़प में 20 भारतीय जवान ( 20 Soldiers Martyred ) वीरगति को प्राप्त हो गए।
-लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल ( LAC Tension ) के उस पार हेलिकॉप्टरों का आना-जाना तेज हुआ है। बॉर्डर ( LAC Border ) पर अलर्ट कर दिया गया है।

नई दिल्ली।
India-China Standoff Update: लद्दाख में गलवान घाटी ( Galvan Valley ) में भारत-चीन सेना के बीच तनाव बढ़ता जा रहा है। सोमवार को लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल ( LAC ) पर हिंसक झड़प में 20 भारतीय जवान ( 20 Soldiers Martyred ) वीरगति को प्राप्त हो गए। वहीं, चीन ( China ) के 32 जवान हताहत हुए हैं। सूत्रों के मुताबिक, लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल ( LAC Tension ) के उस पार हेलिकॉप्टरों का आना-जाना तेज हुआ है। हेलिकॉप्टर घायल और मृत सैनिकों को ले जाने के काम में जुटे हैं।

इधर, खूनी संघर्ष के बाद बॉर्डर ( LAC Border ) पर अलर्ट कर दिया गया है। संयुक्त राष्ट्र ( UN ) के बाद अमेरिका ने भी शांतिपूर्ण समाधान की उम्मीद जताई है। कनाडा के पीएम जस्टिन ट्रूडो ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ( PM Modi ) से भारत और चीन के बीच जारी विवाद को लेकर चर्चा की। बता दें कि 1975 के बाद पहली बार भारत-चीन के बीच बड़ा खूनी संघर्ष हुआ है।

India-China Tension: सच्चाई पर पर्दा डालने में महारत है चीन, ये है ड्रैगन के झूठों का लिस्ट

china_border_tension_02.jpg

बातचीत के बीच हमला
जानकारी सामने आई है कि 6 जून को भारत और चीन के सैन्य कमांडर के बीच मुलाकात हुई थी। उसके बाद से माना जा रहा था कि चीन सेना गलवान घाटी से पीछे हटेगी। दोनों देशों के बीच विवाद को लेकर बातचीत जारी ही थी कि सोमवार को दोनों देशों के बीच हिंसक झड़प हो गई। जिसमें एक कर्नल समेत 20 जवान शहीद हो गए।

Situation on LAC Explosives : दगाबाज चीन से सावधान रहने की जरूरत, कूटनीतिक स्तर पर दखल दे भारत

china_border_tension_03.jpg

3 घंटों तक हुआ खूनी संघर्ष
सोमवार को बड़ी संख्या में चीनी सैनिकों ने 16 बिहार के कमांडिंग अफसर और जवानों पर हमला बोल दिया। दोनों सेनाओं के बीच करीब 3 घंटे तक खूनी संघर्ष होता रहा। भारतीय जवानों ने भी चीन को करारा जवाब दिया। इस झड़प में चीन के 32 जवान मारे गए हैं। वहीं, यह संख्या बढ़ भी सकती है क्योंकि कई सैनिक अभी भी लापता हैं और कई गंभीर रूप से घायल हैं।

china_border_tension_01.jpg

45 साल पहले गई थी 33 जान
यह झड़प दुनिया के दो परमाणु ताकतों के बीच लद्दाख में 14 हजार फीट की ऊंचाई पर स्थित गलवान वैली में हुई। 45 साल पहले इसी गलवान वैली में 1962 की जंग में 33 भारतीयों की जान गई थी। 45 साल पहले अरुणाचल प्रदेश में भारतीय दल जिस समय गश्‍त पर था उस पर चीनी जवानों ने हमला बोल दिया था। सेना ने बताया कि डि-एस्‍कलेशन प्रक्रिया जारी थी, इसी बीच चीन सेना ने हमला बोल दिया। वहीं, अब जवानों के शहीद होने के बाद तनाव और गहरा गया है।

Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned