Job Opportunities: मोदी सरकार ला रही हैं 5 करोड़ नौकरियां, बेरोजगारों के लिए बनाया खास प्लान

-Job Opportunities in MSME: कोरोना महामारी ( Coronavirus ) के कारण उद्योग क्षेत्रों में मंदी का असर देखा जा सकता है।
-देश में आर्थिक गतिविधियों को बढ़ावा देने और रोजगार ( Employment ) उपलब्ध कराने के लिए मोदी सरकार ( Modi Govt ) कई कदम उठा रही है।
-केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ( Nitin Gadkari ) ने कहा है कि सरकार ने आने वाले पांच साल में सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योग ( MSME Sector ) क्षेत्र में 5 करोड़ अतिरिक्त रोजगार देने का लक्ष्य रखा है।

By: Naveen

Published: 11 Sep 2020, 12:08 PM IST

नई दिल्ली।
Job Opportunities in MSME: कोरोना महामारी ( coronavirus ) के कारण उद्योग क्षेत्रों में मंदी का असर देखा जा सकता है। लॉकडाउन ( Lockdown ) के दौरान लाखों की संख्या में लोग बेरोजगार हो गए। हालांकि, देश में आर्थिक गतिविधियों को बढ़ावा देने और रोजगार ( Employment ) उपलब्ध कराने के लिए मोदी सरकार ( Modi Govt ) कई कदम उठा रही है।

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ( Nitin Gadkari ) ने कहा है कि सरकार ने आने वाले पांच साल में सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योग ( MSME Sector ) क्षेत्र में 5 करोड़ अतिरिक्त रोजगार देने का लक्ष्य रखा है। केंद्र सरकार ने इसके लिए प्लान तैयार कर लिया है। मंत्री निति गडकरी ने कहा कि जल्द ही 5 करोड़ नौकरियों को सृजन किया जाएगा।

PM Modi बोले - शिक्षा के क्षेत्र में हम भारत के भविष्य की नींव डाल रहे हैं

5 साल में 5 करोड़ नौकरियां
नीति अयोग द्वारा बुधवार को आयोजित किए गए एक वर्चुअल बैठक में गडकरी ने आत्मनिर्भर भारत 'अराइज अटल न्यू इंडिया चैलेंज' पहल की सराहना की। इस दौरान उन्होंने कहा कि अगले 5 साल में एमएसएमई सेक्टर में नई 5 करोड़ नौकरियां पैदा होंगी। इस समय ये सेक्टर 11 करोड़ लोगों को रोजगार देता है। उन्होंने कहा कि सरकार चाहती है कि देश की GDP में एमएसएमई सेक्टर की भागीदारी 50 फीसदी हो, जो इस समय को 30 प्रतिशत है। वहीं, इस MSME सेक्टर का निर्यात में 49 प्रतिशत से बढ़ाकर 60 फीसदी करना है।

PM Modi : नई शिक्षा नीति से भारत के भविष्य को मिलेगी दिशा

MSME में 11 करोड़ को रोजगार का अवसर
बता दें कि देश के MSME सेक्टर में 11 करोड़ लोगों को रोजगार के अवसर प्रदान करता है। लेकिन, अब जल्द ही 5 करोड़ रोजगार और जुड़ जाएंगे। सरकार इस सेक्टर की मदद से नए टैलेंट को बढ़ावा देना चाहती है।गडकरी ने कहा कि इस चैलेंज के जरिए अलग-अलग क्षेत्रों में आ रही समस्याओं के हल निकालने के लिए नई प्रौद्योगिकी के इस्तेमाल को बढ़ावा मिलेगा। उन्होंने विभिन्न क्षेत्रों में आ रही समस्याओं का समाधान ढूंढने में नई तकनीक के उपयोग को प्रोत्साहित करने की दिशा में काम करने का आह्वान किया।

Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned