सर्वदलीय बैठक में केजरीवाल बोले - ये राजनीति के बदले सेवा का समय, बीजेपी ने लगाए बदइंतजामी के आरोप

 

  • बीजेपी ने कोरोना से पार पाने में सरकार ने गंभीरता नहीं दिखाई।
  • बाजार में लॉकडाउन लगाना समस्या का समाधन नहीं।

नई दिल्ली। दिल्ली में कोरोना विस्फोट से पार पाने के लिए रणनीति तैयार करने को लेकर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की अध्यक्षता में बैठक समाप्त हो गई है। बैठक में सीएक केजरीवाल ने विपक्ष सदस्यों से कहा कि ये राजनीति करने का समय नहीं है। यह सेवा का समय है। उन्होंने कहा कि हम चाहते हैं कि छठ पूजा धूमधाम से मने। लेकिन सार्वजनिक स्थलों पर छठ पूजा के आयोजन से कोरोना को और ज्यादा बढ़ावा मिल सकता है। इसलिए हम चाहते हैं कि सभी लोग इस बार छठ पूजा अपने घर पर मनाएं। ऐसा इसलिए कि सार्वजनिक स्थलों पर छठ पूजा इस बार संभव नहीं है।

केंद्रीय मंत्री डॉ. हर्षवर्धन का दावा - जनवरी 2021 तक भारत की होगी अपनी कोरोना वैक्सीन

भाजपा ने लगाए बदइंतजामी के आरोप

दूसरी तरफ बैठक में शामिल भारतीय जनता पार्टी के नेताओं ने दिल्ली सरकार पर कोरोना को लेकर बदइंतजामी के आरोप लगाए। वहीं कांग्रेस के नेताओं ने बाजार बंद करने के फैसले का विरोध किया। कांग्रेस के नेताओं ने कहा कि बाजार बंद करना समस्या का समाधान नहीं हो सकता। इससे व्यापारी वर्ग को होने वाले घाटे के अलावा लाखों लोगों के रोजगार पर भी संकट पैदा हो जाएगा।

बैठक में मुख्यमंत्री, उपमुख्यमंत्री और स्वास्थ्य मंत्री के अलावा बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष आदेश गुप्ता और दिल्ली कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अनिल चौधरी शामिल हुए।

Coronavirus Pandemic
Dhirendra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned