कैप्टन अमरिंदर सिंह ने ईद के मौके पर किया बड़ा ऐलान, मालेरकोटला पंजाब का 23वां जिला बना

500 करोड़ रुपये की लागत से यहां पर एक मेडिकल कॉलेज की स्थापना की जाएगी। 12 कारोड़ की लागत से लड़कियों का कॉलेज बनेगा।

नई दिल्ली। पंजाब के सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने ईद के मौके पर बड़ा ऐलान किया है। मालेरकोटला पंजाब का 23वां जिला बन गया है। शुक्रवार को इस नए जिले के लिए डीसी की नियुक्ति की घोषणा की गई है। कैप्टन ने मालेरकोटलावासियों को तोहफा देते हुए कहा कि शेर मोहम्मद खान के नाम पर 500 करोड़ रुपये की लागत से यहां पर एक मेडिकल कॉलेज की स्थापना की जाएगी।

12 करोड़ रुपये की लागत से लड़कियों के लिए एक और कॉलेज स्थापित किया जाएगा। एक बस स्टैंड, एक महिला थाना भी बनेगा, जिसे सिर्फ महिला कर्मचारी ही चलाएंगी।

मलेरकोटला में आने की बहुत इच्छा थी

ईद के मौके पर कैप्टन ने वर्चुअल समारोह का आयोजन किया है। लोगों को संबोधित करते हुए सीएम ने कहा कि उनकी ईद के मौके पर मलेरकोटला में आने की बहुत इच्छा थी, लेकिन कोरोना संक्रमण की वजह से वह ऐसा नहीं कर पाए। मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह के अनुसार मलेरकोटला पटियाला रियासत का हिस्सा रहा है। उनके बुज़ुर्गों के मालेरकोटला के नवाब के साथ बहुत बेहतर संबंध रहे हैं।

पंजाब का एकमात्र मुस्लिम बहुल क्षेत्र

गौरतलब है कि मालेरकोटला पंजाब का एकमात्र मुस्लिम बहुल क्षेत्र है। ऐसा कहा जाता है कि मालेरकोटला के नवाब शेर मोहम्मद खान ने सरहिंद के सूबेदार का विरोध करते हुए श्री गुरु गोबिंद सिंह जी के छोटे साहिबजादों के पक्ष में अपनी आवाज बुलंद की थी। इसका उन्होंने जमकर विरोध किया था। इस कारण पंजाब के इतिहास में उनका एक सम्मानित स्थान है।

Mohit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned