केंद्र-ममता सरकार में बढ़ी तकरार, प. बंगाल में अब वैक्सीन सर्टिफिकेट पर लगेगी दीदी की तस्वीर

पश्चिम बंगाल सरकार ने फैसला किया है कि कोरोना कोरोना वैक्सीनेशन के बाद मिलने वाले सर्टिफिकेट पर अब पीएम मोदी की जगह ममता बनर्जी की तस्वीर लगेगी।

नई दिल्ली। अलग-अलग मामलों को लेकर बंगाल और केंद्र सरकार के बीच चल रही खींचातानी अब और भी गहराता जा रहा है। ममता और मोदी सरकार के बीच चल रही तकरार अब कोरोना के वैक्सीनेशन पर आ पहुंचा है। जिसके बाद दोनों ही पक्षों के बीच संकट और भी गहराने के आसार नजर आ रहे हैं।

दरअसल, पश्चिम बंगाल सरकार ने फैसला किया है कि कोरोना कोरोना वैक्सीनेशन के बाद मिलने वाले सर्टिफिकेट पर अब पीएम मोदी की जगह ममता बनर्जी की तस्वीर लगेगी। सरकार की ओर से जारी आदेश में कहा गया है कि बंगाल में राज्य के तरफ से होने वाले तीसरे चरण के वैक्सीनेशन में 18-44 साल के लोगों को वैक्सीनेशन के बाद मुख्यमंत्री ममता की तस्वीर वाली सर्टिफिकेट दिए जाएंगे।

यह भी पढ़ें :- केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर का पंजाब सरकार पर गंभीर आरोप, निजी अस्पतालों को बेची जा रही वैक्सीन

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की फोटो की जगह मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की फोटो वाला सर्टिफिकेट सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है। ममता की फोटो से पहले उस जगह पीएम मोदी की फोटो लगाई जा रही थी, जिसमें मैसेज लिखा था कि दवाई भी और कड़ाई भी।

टीएमसी पहले भी पीएम मोदी की तस्वीर को लेकर जता चुकी है आपत्ति

इससे पहले विधानसभा चुनाव 2021 के दौरान तृणमूल कांग्रेस ने वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट पर पीएम मोदी की तस्वीर लगाने को लेकर भाजपा व प्रधानमंत्री की आलोचना की थी। इतना ही नहीं, तृणमूल कांग्रेस ने चुनाव आयोग में शिकायत भी दर्ज कराई थी और मांग की थी कि तत्काल प्रभाव से इस पर रोक लगाई जाए। टीएमसी ने चुनाव आयोग से कहा था कि वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट पर पीएम मोदी की तस्वीर लगाना आचार सहिंता का उल्लंघन है।

screenshot_from_2021-06-04_23-05-17.png

टीएमसी ने फैसले को बताया सही

मालूम हो मुख्यमंत्री ममता बनर्जी लगातार इस मुद्दे को उठाती रही हैं और सर्टिफिकेट पर पीएम मोदी की तस्वीर को लेकर आलोचना करती रही हैं। साथ ही केंद्र सरकार से पूरे देश में फ्री वैक्सीनेशन किए जाने की मांग करती रहीं हैं।

अब वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट पर ममता बनर्जी की तस्वीर लगाने के फैसले को तृणमूल कांग्रेस ने बचाव करते हुए सही बताया है। टीएमसी नेता सौगत रॉय ने कहा कि भाजपा ने पहले ऐसा किया है। यदि वे ऐसा कर सकते हैं तो हमारे तरफ से भी ऐसा किया जा सकता है और यह बिल्कुल भी गलत नहीं है। यदि वे ऐसा नहीं करते तो हम भी नहीं करते।

भाजपा ने जताया एतराज

तृणमूल कांग्रेस के इस फैसले को लेकर भाजपा भड़क गई है। भाजपा ने टीएमसी पर प्रधानमंत्री पद की गरीमा कम करने का आरोप लगाया। भाजपा के वरिष्ठ नेता और राज्य प्रवक्ता समिक भट्टाचार्या ने कहा कि टीएमसी पीएम पद की गरिमा स्वीकार नहीं कर रही है। वह एक अलग निर्भर देश की तरह बर्ताव कर रही है। टीएमसी ये मानने को तैयार नहीं है कि वे लोग जहां रह रहे हैं, वह भारत का एक राज्य है।

यह भी पढ़ें :- पीएम मोदी ने की COVID-19 टीकाकरण अभियान की समीक्षा, कहा- वैक्सीन की बर्बादी न करें

इससे पहले बंगाल के पूर्व मुख्य सचिव अलपन बंद्योपाध्याय को लेकर बंगाल सरकार और केंद्र सरकार के बीच राजनीतिक सरगर्मी काफी बढ़ी हुई है। ऐसे में अब ये नया मामला दोनों ही पक्षों के बीच तनाव को और भी बढ़ा सकता है।

मालूम हो कि सबसे पहले छत्तीसगढ़ सरकार ने वैक्सीन सर्टिफिकेट से पीएम मोदी की फोटो हटाकर खुद मुख्यमंत्री की फोटो लगाने का काम किया था। छत्तीसगढ़ में18-44 साल की उम्र वाले लोगों के सर्टिफिकेट में पीएम मोदी की बजाय राज्य के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की फोटो लगाई जा रही है।

PM Narendra Modi
Anil Kumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned