सेना दिवस पर एमएम नरवणे बोले - सीमा पर किसी ने परखने की कोशिश की तो सिखाएंगे सबक

  • संदीप नायक सहित 5 जवानों को मरणोपरांत सेना मेडल।
  • चीन पर लगाया एकतरफा सीमा को बदलने का आरोप।

नई दिल्ली। आज सेना दिवस है। सेना प्रमुख एमएम नरवाणे ने दिल्ली कैंट स्थित करिअप्पा ग्राउंड में परेड का निरीक्षण किया। उन्होंने इस मौके पर देश की सुरक्षा के लिए असाधारण वीरता और क्षमता का परिचय देने वाले शहीद सैनिकों को सम्मानित किया। 10 पैरा स्पेशल फोर्सेस यूनिट के संदीप नाइक को मरणोपरांत सेना पदक से सम्मानित किया। संदीप नायक ने यह सम्मान जम्मू और कश्मीर में दो आतंकवादियों को ढेर करने और अपने स्क्वाड कमांडर की जिंदगी को बचाने के लिए दिया या है। आज सेना प्रमुख ने इंडियन आर्मी के पांच जवानों को वीरतापूर्ण कार्यों के लिए मरणोपरांत सेना पदक से सम्मानित किया।

सेना दिवस पर सेना प्रमुख एमएम नरवणे ने कहा कि आप सभी उत्तरी सीमाओं पर चीन के साथ चल रहे तनाव से अवगत हैं। हमने सीमाओं पर एकतरफा स्थिति बदलने की साजिश के खिलाफ चीन को मुंहतोड़ जवाब दिया है। मैं, देश को एक बार फिर भरोसा दिलाना चाहता हूं कि गालवान के बहादुरों का बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा।

चीन के साथ सीमा विवाद का समाधान हम बातचीत और राजनीतिक प्रयासों के माध्यम से खोजने के लिए प्रतिबद्ध हैं। लेकिन किसी ने भी हमारे धैर्य की परीक्षा ली तो हम उसे सबक सिखाने का काम करेंगे।

Dhirendra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned