दावा: देश में औसतन रोज 69 लाख लोगों को लग रही कोरोना की वैक्सीन, मगर कुछ गड़बड़ी भी आ रही सामने

टीकाकरण अभियान में कई बार बड़ी लापरवाही भी देखने को मिल रही है। ऐसा ही एक मामला महाराष्ट्र के ठाणे का है। यहां एक महिला ने दावा किया है कि जब वह टीकाकरण केंद्र पर वैक्सीन लगवाने गई, तो 15 मिनट के भीतर उसे तीन बार वैक्सीन लगा दी गई।

 

नई दिल्ली।

देश में कोरोना वायरस (Coronavirus) की दूसरी लहर अब करीब थम गई है। वहीं, सभी राज्यों में टीकाकरण अभियान जोरशोर से चलाया जा रहा है। गत 21 जून के बाद टीकाकरण अभियान को 18 वर्ष से अधिक लोगों के लिए राष्ट्रव्यापी स्तर पर निशुल्क चलाया जा रहा है, जिससे औसतन रोज करीब 69 लाख लोगों को वैक्सीन लग रही है।

टीकाकरण अभियान में कई बार बड़ी लापरवाही भी देखने को मिल रही है। ऐसा ही एक मामला महाराष्ट्र के ठाणे का है। यहां एक महिला ने दावा किया है कि जब वह टीकाकरण केंद्र पर वैक्सीन लगवाने गई, तो 15 मिनट के भीतर उसे तीन बार वैक्सीन लगा दी गई। हालांकि, स्थानीय प्रशासन ने महिला के दावे को गलत बताते हुए इससे इनकार किया है। बहरहाल, अच्छी बात यह है कि महिला ने यदि वैक्सीन की तीन खुराक ले भी ली है, तो वह फिलहाल स्वस्थ्य है। वैसे यह तो जांच में सामने आएगा कि महिला को 15 मिनट के भीतर तीन डोज लगी या नहीं।

यह भी पढ़ें:- महाअभियान: प्रधानमंत्री ने लॉन्च किया क्रैश कोर्स, मुफ्त ट्रेनिंग के साथ स्टाइपेंड और दो लाख रुपए का दुर्घटना बीमा भी मिलेगा

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, जिस महिला ने वैक्सीन की तीन डोज लगने का दावा किया है, उनके पति ने पहचान नहीं उजागर करने की शर्त पर बताया कि वह अपनी पत्नी के साथ गत शुक्रवार को टीकाकरण केंद्र पर गए थे। टीकाकरण की प्रक्रिया जब पूरी हो गई, तब महिला ने बाहर आकर बताया कि उसे वैक्सीन की तीन डोज लगाई गई है। पति ने जब इस बारे में वहां पूछा तो स्टॉफ ने इससे इनकार किया है। मामला जब तूल पकड़ा और स्थानीय मीडिया में रिपोर्ट प्रकाशित हुई, तब स्थानीय प्रशासन हरकत में आया। वैसे, शुरुआती जांच के बाद प्रशासन ने बताया कि महिला का दावा गलत है और उसे एक बार ही वैक्सीन की डोज लगी है। हालांकि, प्रशासन ने विस्तृत जांच का आश्वासन भी महिला और उसके परिजनों को दिया है।

यह भी पढ़ें:-कोरोना से जंग कैसे जीते भारत, विशेषज्ञों ने दिए 8 सुझाव और कहा- तुरंत अमल में लाएं

महाराष्ट्र में कोरोना के सबसे अधिक मामले सामने आने के बाद राज्य सरकार वहां ज्यादा सतर्कता बरत रही है। गत सोमवार को ठाणे में कोरोना महामारी के 480 नए मामले सामने आए, जिसके बाद यहां संक्रमण के कुल 5 लाख 31 हजार 200 हो गए हैं। वहीं, 16 लोगों की मौत के बाद मृतकों की संख्या 10 हजार 645 हो गई है। इसके अलावा, चिंता की बात यह है कि यहां डेल्टा प्लस वेरिएंट का संक्रमण भी पहुंच गया है। महाराष्ट्र में अब तक 21 डेल्टा प्लस वेरिएंट संक्रमित मरीज मिल चुके हैं। इनमें एक व्यक्ति वैक्सीन की पहली खुराक ले चुका है।

COVID-19 virus
Ashutosh Pathak
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned