दिल्ली को मिली बड़ी राहत, रायगढ़ से ऑक्सीजन टैंकरों के साथ एक ऑक्सीजन स्पेशल ट्रेन पहुंची

रायगढ़ से दिल्ली और गुरूग्राम में लगातार ऑक्सीजन सप्लाई जारी है। स्टील प्लांट देश में ऑक्सीजन की कमी को दूर करने में लगे हुए हैं।

नई दिल्ली। देश कोरोना वायरस (Coronavirus) की दूसरी लहर के चपेट में आने के बाद से ऑक्सीजन की कमी से जूझ रहा है। खासकर दिल्ली में लोग समय पर ऑक्सीजन न मिलने के कारण दम तोड़ रहे हैं। यहां पर सप्लाई में कमी के कारण मरीजों का इलाज होना मुमकिन नहीं हो रहा है। इस बीच छत्तीसगढ़ के रायगढ़ से ऑक्सीजन टैंकरों के साथ एक ऑक्सीजन स्पेशल ट्रेन दिल्ली कैंट पहुंच गई है। इसके बाद से अब दिल्ली के अस्पतालों में ऑक्सीजन की सप्लाई हो सकेगी।

Read More: Paytm ने की 'ऑक्सीजन फॉर इंडिया’ पहल की शुरुआत, 3 हजार ऑक्सीजन कंसेंट्रेटर करेगा आयात

ऑक्सीजन की सप्लाई रायगढ़ से जारी

गौरतलब है कि रायगढ़ से दिल्ली और गुरूग्राम में लगातार ऑक्सीजन सप्लाई जारी है। इससे पहले रविवार को जेएसपीएल के रायगढ़ संयंत्र से ऑक्सीजन टैंकर गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल पहुंचे। जेएसपीएल के चेयरमैन नवीन जिंदल के अनुसार जेएसपीएल के ऑक्सीजन कारखाने में टैंकरों को तरल चिकित्सा ऑक्सीजन से भरकर देश के कई हिस्सों में भेजा जा रहा है।

स्टील प्लांटों से ऑक्सीजन की सप्लाई

सार्वजनिक और निजी क्षेत्र के स्टील प्लांट देश में ऑक्सीजन की कमी को दूर करने में लगे हुए हैं। इन प्लांटों के जरिए 25 अप्रैल तक कई राज्यों को 3131.84 मीट्रिक टन मेडिकल ऑक्सीजन की आपूर्ति हुई। 24 अप्रैल को 2894 मीट्रिक टन ऑक्सीजन की आपूर्ति हो सकी थी। एक हफ्ते पहले औसतन 1500 से 1700 मीट्रिक टन प्रति दिन भेजा जा रहा था।

Read More: CDS बिपिन रावत ने पीएम मोदी से की मुलाकात, कोरोना से निपटने के लिए सेना ने पूर्व स्वास्थ्यकर्मियों को बुलाया वापस

बैकअप प्लान बनाने को कहा

ऑक्सीजन की कमी को पूरा करने के कई जगहों ने आपूर्ति का काम जारी है। रिपोर्ट्स के अनुसार डॉक्टर वीके पॉल के नेतृत्व वाले अधिकारियों के ग्रुप ने प्राधिकरणों को आने वाले संकट को लेकर चेतावनी दी है। उन्होंने ऑक्सीजन सप्लाई के लिए बैकअप प्लान बनाने को कहा है। इस ग्रुप के अधिकारियों ने स्वास्थ्य मंत्रालय सहित अन्य प्राधिकरणों को अप्रैल के अंत तक पांच लाख नए कोरोना के मामले आने पर सतर्क रहने और ऑक्सीजन की सप्लाई के लिए तुरंत उपाय करने को कहा गया है।

Mohit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned