कोरोना पर वैक्सीन बेअसर! टीकों के बाद भी संक्रमित हुए लोग, एक की इलाज के दौरान मौत

कोरोना वायरस वैक्सीन को मात देता नजर आ रहा है। एक स्टडी के अनुसार, ओडिशा में टीका लगवाने के बाद भी लोग संक्रमित हो रहे है।

नई दिल्ली। देशभर में महामारी कोरोना वायरस की दूसरी लहर अब धीरे धीरे कम हो रही है। पिछले कुछ दिनों से लगातार कोविड के मरीजों की कर्मी दर्ज की जा रही है। देश में टीकाकरण का अभियान भी पूरे जोश के साथ किया जा रहा है। 18 साल की उम्र से अधिक लोगों को नि:शुल्क वैक्सीन लगाई जा रही है। हाल ही में कोविड संक्रमित मरीजों को लेकर एक चौंकाने वाली रिपार्ट आई है। कोरोना वायरस वैक्सीन को मात देता नजर आ रहा है। एक स्टडी के अनुसार, ओडिशा में टीका लगवाने के बाद भी लोग संक्रमित हो रहे है।


75 फीसदी लोग संक्रमित
ओडिशा में भुवनेश्वर के क्षेत्रीय चिकित्सा अनुसंधान केंद्र (आरएमआरसी) की एक रिपोर्ट के अनुसार, पूरी तरह से टीकाकरण करवा चुक लोग कोरोना की चपेट में आ रहे है। आरएमआरसी ने केंद्र सरकार को इसी रिपोर्ट भेजी है। जिसमें कहा गया हे कि वैक्सीन ले चुके 75 फीसदी लोग संक्रमण हो गए है।

वैक्सीन के 14 दिन बाद हुए पॉजिटिव
रिपोर्ट के अनुसार, कोरोना की दोनों वैक्सीन लेने के 14 दिन बाद भी लोग कोविड संक्रमित हो गए। स्टेडी में नासॉफिरिन्जियल स्वैब और सीरम के साथ 1 मार्च और 10 जून के दौरान टीका ले चुके स्वास्थ कार्यकर्ताओं के 361 नमूनों की जांच आयोजित की गई थी। उनमें से 274 नमूने (186 पुरुष, 88 महिलाएं) कोविशील्ड या कोवैक्सिन की दोनों खुराक प्राप्त करने के 14 दिनों के बाद भी पॉजिटिव पाए गए। इन 274 में से 83.2 प्रतिशत से अधिक सिप्टोमेटिक थे, जिनमें से 9.9 प्रतिशत को अस्पताल में भर्ती होने की जरूरत पड़ी। इस संख्या में से 35 ने कोवैक्सिन और 239 ने कोविशील्ड ली हुई थी।


यह भी पढ़ेँः डेल्टा प्लस वेरिएंट के खिलाफ जंग में एम्स डायरेक्टर डॉ. गुलेरिया ने बताए 3 बड़े हथियार, स्कूल खोलने पर दिया जोर

23.3 फीसदी लोगों को दूसरी बीमारियां
रिपोर्ट के अनुसार, पॉजिटिव पाए जाने के बाद लोगों को अस्पताल में भर्ती होना पड़ा। इलाज के दौरान एक व्यक्ति की मौत हो गई। वैक्सीन के बाद संक्रमित हुए लोगों में सबसे आम लक्षण- बुखार (88.5 फीसदी), खांसी (77.6 फीसदी) और गले में खराश (59.6 फीसदी) थे। लगभग 64 (23.3 फीसदी) लोगों मधुमेह, हाई ब्लड प्रेशर, हाइपोथायरायडिज्म और अस्थमा जैसी बीमारियों से ग्रस्त थे। इस रिपोर्ट ने कोरोना की तीसरी लहर की तैयारियों में जुटी सरकार की चिंता बढ़ा दी है।

coronavirus
Shaitan Prajapat
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned