PM Modi ने डॉ जोसेफ के निधन पर जताया दुख, कहा - उनके आदर्शों को हमेशा याद किया जाएगा

  • डॉ. जोसेफ मार थोमा ने जीवन भर गरीबी उन्मूलन और महिला सशक्तिकरण पर जोर दिया।
  • 2007 में उनका मेट्रोपॉलिटन के रूप में राज्याभिषेक हुआ था।

नई दिल्ली। केरल के पथनमथिट्टा स्थित मार थोमा चर्च के प्रमुख डॉ. जोसेफ मार थोमा के निधन पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दुख जताया है। पीएम ने अपने शोक संदेश में कहा है कि डॉ. जोसेफ ने जीवन भर मानवता की सेवा की।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि डॉ जेसेफ मार थोमा ने गरीबों के जीवन को बेहतर बनाने के लिए कड़ी मेहनत की। इसी का नतीजा है कि वह अपने काम के लिए गरीबों के बीच काफी लोकप्रिय हुए। उनके नेक आदर्शों को हमेशा याद किया जाएगा।

हाल ही में 90वें जन्मदिन पर दी थी बधाई

पीएम मोदी ने एक ट्विट में लिखा है कि हाल ही में उनके 90वें जन्मदिन समारोह पर संबोधन का मौका मिला था। उन्होंने मार थोमा की एक वीडियो क्लिप भी साझा की है। उनके 90वें जन्मदिन पर बधाई देते हुए पीएम ने डॉ. जोसेफ को लंबे जीवन और सर्वश्रेष्ठ स्वास्थ्य की बधाई देते हुए उनके दीर्घ जीवन की कामना की थी।

FAO की वर्षगांठ पर पीएम मोदी बोले - नोबेल शांति पुरस्कार मिलना संगठन की विशेष उपलब्धि

महिला सशक्तिकरण पर दिया जोर

पीएम मोदी ने कहा था कि डॉ. जोसेफ ने हमारे समाज और राष्ट्र की बेहतरी के लिए अपना जीवन समर्पित कर दिया। उन्होंने महिला सशक्तीकरण पर विशेष रूप से जोर दिया।

1999 में मनोनीत हुए थे मेट्रोपोलिटन

बता दें कि डॉ. जोसेफ मार थोमा को 1999 में मेट्रोपोलिटन के रूप में मनोनीत किया गया था। 2007 में मेट्रोपॉलिटन के रूप में उनका राज्याभिषेक हुआ था। उन्होंने 13 साल तक मार थोमा चर्च के प्रमुख के रूप में जिम्मेदारी संभाली।

डॉ. जोसेफ का जन्म 27 जून, 1931 को हुआ था। 1957 में उन्होंने एक पादरी के रूप में चर्च ज्वाइन किया था। 1975 में उन्हें जोसेफ मार आइरेनियस की उपाधि दी गई थी। 18 अक्टूबर को उन्होंने एक निजी अस्पताल में अंतिम सांस ली।

pm modi PM Narendra Modi
Dhirendra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned