पीएम मोदी ने डॉ. भीमराव अंबेडकर को श्रद्धांजलि अर्पित की, कहा - उनके विचार हमें ताकत देते रहेंगे

  • भारतीय संविधान के शिल्पी थे अंबेडकर।
  • वंचितों के उत्थान के लिए जीवनपर्यंत करते रहे संघर्ष।

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बाबासाहेब डॉ. भीमराव अंबेडकर के महापरिनिर्वाण दिवस के अवसर पर रविवार को श्रद्धांजलि अर्पित की। पीएम मोदी ने भारतीय संविधान के शिल्पकार को याद करते हुए कहा है कि उनके विचार और आदर्श लाखों लोगों को ताकत देते रहते हैं। हम उन सपनों को पूरा करने के लिए प्रतिबद्ध हैं जो उन्होंने हमारे राष्ट्र के लिए किए थे। प्रधानमंत्री ने कहा कि बाबासाहेब के आदर्श विचार सभी को हमेशा प्रेरित करते रहेंगे।

महिलाओं के विकास से मापा जाता है लोकतंत्र का स्तर

बता दें कि डॉ. बाबा साहेब अंबेडकर भारतीय संविधान के शिल्पकार थे। वह महान समाज सुधारक होने के साथ वंचितों के अधिकारों के लिए सदैव संघर्ष करते रहे। बाबासाहेब कहा करते थे कि किसी भी समुदाय का विकास उस समुदाय की महिलाओं के विकास से मापा जाता है। भारतीय लोकतंत्र में डॉ आंबेडकर की अहम भूमिका रही है। 1951 में वो जवाहरलाल नेहरू की अंतरिम सरकार में कानून मंत्री भी बने लेकिन नेहरू पर आरोप लगाते हुए पद से इस्तीफ़ा दे दिया। उनका इल्जाम था कि नेहरू ने वंचित समुदायों के कल्याण में ज्यादा रुचि नहीं लेते हैं।

pm modi
Dhirendra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned