पीएम मोदी बोले - स्टार्टअप्स और एमएसएमई बनेंगे आत्मनिर्भर भारत की पहचान

  • एमएसएमई के लिए विशेष योजनाओं पर काम जारी।
  • 90 लाख उद्यमियों को 2.4 ट्रिलियन रुपए का ऋण दिया गया।

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज एक वेबिनार को संबोधित करते हुए कहा कि वो दो मार्च को मैरीटाइम इंडिया समिट 2021 का उद्घाटन करेंगे। तीन दिवसीय इस वैश्विक शिखर सम्मेलन का आयोजन बंदरगाह, जहाजरानी और जलमार्ग मंत्रालय द्वारा किया जाएगा।

वित्त सेवा क्षेत्र में बजट पर पीएम मोदी ने एक वेबिनार को संबोधित करते हुए कहा कि हमारे स्टार्टअप और एमएमएसई आत्मनिर्भर भारत की पहचान बनेंगे। यही वजह है कि कोविड-19 महामारी के दौरान एमएसएमई के लिए विशेष योजनाएं बनाई गईं हैं। इन योजनाओं के तहत लगभग 90 लाख उद्यमों को 2.4 ट्रिलियन रुपए का ऋण दिया गया है।

उन्होंने कहा कि देश के फाइनेंशियल सेक्टर को लेकर सरकार का विजन बिल्कुल साफ है। देश में कोई भी जमाकर्ता हो या कोई भी निवेशक हो, भारत के साथ डील करने व यहां पर काम करने में वो विश्वास और पारदर्शिता अनुभव करें, ये हमारी सर्वोच्च प्राथमिकता है।

हमारा लगातार ये प्रयास है कि जहां संभव हो वहां प्राइवेट उद्यम को ज़्यादा से ज़्यादा प्रोत्साहित किया जाए। लेकिन इसके साथ-साथ बैंकिंग और बीमा में पब्लिक सेक्टर की भी एक प्रभावी भागीदारी अभी देश की जरूरत है।

pm modi
Dhirendra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned