scriptPreparation for lockdown in Himachal, Chief Minister convened all-part | हिमाचल में लॉकडाउन लगाने की तैयारी, मुख्यमंत्री ने बुलाई सर्वदलीय बैठक | Patrika News

हिमाचल में लॉकडाउन लगाने की तैयारी, मुख्यमंत्री ने बुलाई सर्वदलीय बैठक

हिमाचल प्रदेश में कोरोना के बढते मामलों के बीच सख्त कदम उठाने को लेकर सर्वदलीय बैठक के बाद कैबिनेट बैठक हो रही है। माना जा रहा है कि इस बैठक में प्रदेश में लॉकडाउन लगाए जाने पर विचार किया जा रहा है।

नई दिल्ली

Updated: May 05, 2021 03:40:27 pm

नई दिल्ली। पूरी दुनिया में महामारी कोरोना वायरस की दूसरी लहर ने अपना आतंक मचा रखा है। रोजाना कोरोना के मरीजों की संख्या में लगातार बढ़ोतरी हो रही है। वहीं कोरोना से मरने वाले का आंकड़ा बढ़ रहा है। बेकाबू महामारी पर लगाम लगाने के लिए सभी राज्य अपने स्तर पर हर संभव कोशिश कर रहे है। कई राज्यों में कोरोना मरीजों के लिए अस्पताल में बेड और ऑक्सीजन भी नहीं मिल पा रही है। हिमाचल प्रदेश में कोरोना संक्रमण के बढते मामलों के बीच सख्त कदम उठाने को लेकर सर्वदलीय बैठक के बाद कैबिनेट बैठक हो रही है। माना जा रहा है कि इस बैठक में प्रदेश में लॉकडाउन लगाए जाने पर विचार किया जा रहा है।

Jairam Thakur
Jairam Thakur

यह भी पढ़ें

देश का पहला मामला: शेर भी कोरोना की चपेट में, हैदराबाद के चिड़ियाघर में 8 एशियाई शेर पॉजिटिव

विपक्ष कर रहा है लॉकडाउन की सिफारिश
मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर की अध्यक्षता में शुरू हुई बैठक में नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री, कांग्रेस की वरिष्ठ विधायक आशा कुमारी, माकपा विधायक राकेश सिंघा, कांग्रेस के विधायक धनीराम शांडिल, संसदीय कार्यमंत्री सुरेश भारद्वाज शामिल रहे। विपक्ष पिछले कुछ दिनों से लगातार लॉकडाउन लगाने की सिफारिश कर रहा है। हिमाचल सरकार मंत्रिमंडल की बैठक में उत्तर भारत के राज्यों की तर्ज पर लॉकडाउन लगाने का निर्णय ले सकती है। कोरोना से निपटने के लिए हिमाचल प्रदेश को करीब 75 लाख वैक्सीन की डोज और कुल 220 करोड़ रुपए की जरूरत है। इस समय सरकार के पास सिर्फ एक लाख वैक्सीन मौजूद हैं। आपको बता दें कि प्रदेश में अभी तक कुल 18 लाख लोगों को वैक्सीन लगाई जा चुकी है।

यह भी पढ़ें

मौत का तांडव: बेंगलुरु में नहीं बची अंतिम संस्कार की जगह, श्मशानों के बाहर लगे 'हाउस फुल' के बोर्ड

ऑक्सीजन और आईसीयू बेड को लेकर सरकार चिंतित
हिमाचल में कोरोना मरीजों की संख्या में लगातार तेजी आ रही है। बढ़ते मरीजों को देखते हुए सरकार काेविड-19 की समीक्षा कर रही है। इस संबंध में राज्य की मौजूदा स्थिति को देखते हुए अधिक संक्रमित जिलों के लिए सख्त कदम उठा सकती है। पिछले दिनों अस्पतालों में मरीजों की संख्या बढ़ने के कारण बिस्तरों की मांग बढ़ने लगी है। बेड के साथ- साथ ऑक्सीजन का उत्पादन और आईसीयू बेड की संख्या बढ़ाने पर विचार कर रही है। मौजूदा माहौल को देखते हुए माना जा रहा है कि सरकार 10 से 15 दिनों का लॉकडाउन लगा सकती है। कोरोना की चेन तोड़ने के लिए सरकार को सख्त कदम उठाना ही पड़ेगा।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

इन नाम वाली लड़कियां चमका सकती हैं ससुराल वालों की किस्मत, होती हैं भाग्यशालीजब हनीमून पर ताहिरा का ब्रेस्ट मिल्क पी गए थे आयुष्मान खुराना, बताया था पौष्टिकIndian Railways : अब ट्रेन में यात्रा करना मुश्किल, रेलवे ने जारी की नयी गाइडलाइन, ज़रूर पढ़ें ये नियमधन-संपत्ति के मामले में बेहद लकी माने जाते हैं इन बर्थ डेट वाले लोग, देखें क्या आप भी हैं इनमें शामिलइन 4 राशि की लड़कियों के सबसे ज्यादा दीवाने माने जाते हैं लड़के, पति के दिल पर करती हैं राजशेखावाटी सहित राजस्थान के 12 जिलों में होगी बरसातदिल्ली-एनसीआर में बनेंगे छह नए मेट्रो कॉरिडोर, जानिए पूरी प्लानिंगयदि ये रत्न कर जाए सूट तो 30 दिनों के अंदर दिखा देता है अपना कमाल, इन राशियों के लिए सबसे शुभ
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.