scriptPulwama Attack before blast stone pelting on CRPF convoy media report claim | पुलवामा हमले से पहले CRPF की गाड़ियों पर हुई थी पत्थरबाजी, काफिले में शामिल जवान का दावा | Patrika News

पुलवामा हमले से पहले CRPF की गाड़ियों पर हुई थी पत्थरबाजी, काफिले में शामिल जवान का दावा

पुलवामा में CRPF की गाड़ियों पर हुए हमले को लेकर काफिले में शामिल एक जवान ने बड़ा खुलासा किया है।

नई दिल्ली

Updated: February 17, 2019 08:41:33 am

नई दिल्ली। पुलवामा में सीआरपीएफ काफिले पर 14 फरवरी को हुए आतंकी हमले को लेकर एक बड़ा खुलासा हुआ है। जिसके बाद से आशंका जताई जा रही है कि 44 जवानों की शहादत में पत्थरबाजों की भी भूमिका थी। ये जानकारी खुद उस जवान ने एक मीडिया हाउस से बातचीत के दौरान दी है जो हमले के दौरान काफिले में शामिल था।

Pulwama Attack

हमले से 10 मिनट पहले पत्थरबाजी

श्रीनगर-जम्मू राजमार्ग पर गुरुवार की दोपहर 3.15 बजे जैश-ए-मुहम्मद (जेईएम) के एक आत्मघाती हमलावर ने विस्फोटकों से लदी एसयूवी को सीआरपीएफ की बस में मार दिया। इसी काफिले में सवार जवान ने कहा कि हमले के करीब दस मिनट पहले कुछ लोग पथराव कर रहे थे। बाजार में लोग दुकानों के शटर जल्दी-जल्दी गिरा रहे थे। जबतक गाड़ी में बैठे जवानों की समझ में कुछ आता, धमाका हो गया। बताया जाता है कि जानकारी देने वाला यह जवान काफिले में 35-40 गाड़ियों के पीछे था।

आतंकियों को थी काफिले की पूरी जानकारी!

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक शुरुआती जांच से पता चला है कि आतंकियों को सीआरपीएफ के काफिले के बारे में पहले से जानकारी थी। इसी वजह से उन्होंने हमले के लिए उस इलाके को चुना जहां आम तौर पर गाड़ियों की रफ्तार कम हो जाती है, क्योंकि ये ढलान वाला इलाका है।

जैश ने ली हमले की जिम्मेदारी

हमले का जिम्मा पाकिस्तान स्थित आतंकवादी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने लिया है, लेकिन पाकिस्तानी विदेश मंत्रालय ने एक बयान जारी कर इसे खारिज कर दिया। बयान में कहा गया कि भारत सरकार और मीडिया ने बिना किसी जांच के इस आतंकवादी हमले का संबंध पाकिस्तान से जोड़ दिया।

एनआईए कर रही है जांच

फिलहाल हमले के संबंध में पुलिस को जांच में सहयोग करने के लिए 12 सदस्यीय राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) और राष्ट्रीय सुरक्षा गार्ड (एनएसजी) की टीम मौके पर पहुंच चुकी है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

Kerala News: मुस्लिम लीग के महासचिव का विवादित बयान, बोले- 'लड़के-लड़कियों का स्कूल में साथ बैठना खतरनाक'CBI Raids Manish Sisodia House Live Updates: बीजेपी की बौखलाहट ने देश को ये संदेश दिया है कि 2024 का चुनाव AAP v/s BJP होगा- संजय सिंहबंगाल, महाराष्ट्र में भी ED के छापे, उनके सामने तो मैं तिनका हूँ, 'सांसद अफजाल अंसारी ने दी चुनौती- पूर्वांचल हमारा ही रहेगा'Mumbai News: दही हांड़ी फोड़ने पर 55 लाख से लेकर स्पेन जाने सहित मिल रहे हैं ये खास ऑफर; पढ़े पूरी खबरबिहार में सूखे का जायजा लेने निकले थे मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, गया में हेलीकॉप्टर की करवानी पड़ी इमरजेंसी लैंडिंगबिहार में सूखे का जायजा लेने निकले थे मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, गया में हेलीकॉप्टर की करवानी पड़ी इमरजेंसी लैंडिंगअखिलेश यादव ने किया यूपी से दिल्ली तक हमला, बीजेपी के खिलाफ मिलकर लड़ेंगेPICS: देशभर में श्री कृष्ण जन्माष्टमी की धूम, सुनाई दे रही जयश्री कृष्णा की गूंज
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.