Punjab Budget : कैप्टन अमरिंदर सरकार ने पेश किया चुनावी बजट, किसानों का कर्ज माफ, महिलाओं के लिए फ्री बस यात्रा का ऐलान

Breaking :

  • पंजाब में एक जुलाई से छठा वेतन आयोग लागू होगा।
  • सरकारी कर्मचाारियों के छठे वेतन लिए 9000 करोड़ रुपए का प्रावधान।

 

नई दिल्ली। पंजाब में कैप्टन अंमरिदर सरकार ने वर्तमान कार्यकाल का आखिरी बजट पेश किया। यह बजट पूरी तरह से चुनावी बजट जैसा है। वित्‍तमंत्री मनप्रीत सिंह बादल ने वित्तीय वर्ष 2021-22 के बजट में कई बड़े ऐलान किए हैं।

किसानों का कर्ज माफ

कैप्टन अमरिंदर सिंह सरकार ने अपने बजट में कर्मचारियों, किसानों और महिला वर्ग को खुश करने की कोशिश की है। प्रदेश के 1.13 लाख किसानों का 1186 करोड़ रुपए कर्ज माफ करने की घोषणा भी की। इसके अलावा महिलाओं के लिए राज्य सरकार की बसों में फ्री में यात्रा करने का ऐलान भी वित्‍तमंत्री ने किया।

सरकार कर्मचारियों को खुश करने की कोशिश

पंजाब की कैप्टन सरकार के अपने आखिरी बजट में सभी को खुश करने की कोशिश की है। सरकारी कर्मचारियों को लेकर वित्तमंत्री ने ऐलान किया कि 1 जुलाई से पंजाब में छठा वेतन आयोग लागू होगा। उन्‍होंने कहा कि कर्मचारियों के लिए वेतन आयोग की रिपोर्ट 31 मार्च से पहले आ जाएगी। सरकार ने कर्मचाारियों के छठे वेतन लिए 9000 करोड़ रुपये का प्रावधान बजट में रखा गया है। पटियाला के सरकारी मेडिकल कॉलेज में सुविधाओं के विकास के लिए 92 करोड़ रुपए आवंटित किए गए हैं।

पंजाबी, हिंदी व उर्दू लेखकों पर सरकार मेहरबान

वित्‍तमंत्री मनप्रीत सिंह बादल ने पंजाबी हिंदी व उर्दू भाषाओं के बुजुर्ग लेखकों को दी जाने वाली मासिक पेंशन 5 से बढ़ाकर 15 हजार रुपए करने की घोषणा की। वहीं पंजाबी हिंदी उर्दू भाषाओं की मृतक लेखकों के आश्रित परिवारों को दे जाने वाली सहायता राशि 2500 रुपए से बढ़ाकर 15,000 रुपए प्रति माह करने का प्रावधान भी रखा।

2022 में है विधानसभा चुनाव

विपक्षी दलों के नेताओं ने बजट को कैप्‍टन सरकार का चुनावी बजट करार दिया है। बता दें कि पंजाब विधानसभा का चुनाव 2022 में होने हैं।

Dhirendra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned