राजनाथ ने लद्दाख में किया 63 प्रोजेक्ट का उद्घाटन, चीन और पाक को लेकर कही बड़ी बात

रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने पाकिस्तान को चीन को दी चेतावनी, बोले- भारत ने कभी पहले हमले के लिए कदम नहीं उठाया, लेकिन मुंहतोड़ जवाब देने की क्षमता

नई दिल्ली। रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ( Rajnath Singh ) ने लद्दाख ( Ladakh ) में अपने दौरे के दूसरे दिन 63 प्रोजेक्ट का उद्घाटन किया। इस मौके पर उन्होंने कहा कि भारत की तरफ कोई आंख उठा कर नहीं देख सकता। उन्होंने कहा कि चाहे वो चीन हो या पाकिस्तान भारत अपनी रक्षा करना जानता है। रक्षा मंत्री का बयान ऐसे वक्त पर आया है जब कि देश में पहली जम्मू-कश्मीर में ड्रोन के जरिए हमला किया गया है।

रक्षा मंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी चाहते हैं कि जम्मू कश्मीर और लद्दाख में राजनीतिक प्रक्रिया शुरू होनी चाहिए। पीएम ने जम्मू कश्मीर के नेताओं से पहले ही बात कर ली है और जल्द ही वह लद्दाख के नेताओं से भी मुलाकात करेंगे।

यह भी पढ़ेँः जम्मू में आर्मी कैम्प के ऊपर फिर दिखे दो ड्रोन, सुरक्षा बल के जवानों ने की फायरिंग

रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने पाकिस्तान और चीन को चेतावनी देते हुए कहा कि, हमको किसी ने आंख दिखाने की कोशिश की तो उसको मुंहतोड़ जवाब देने की कुवत हम में है। पहल हम नहीं करते, लेकिन कोई छेड़े तो हम छोड़ते भी नहीं है।

राजनाथ सिंह ने इस दौरान आर्मी कैंप पहुंचकर सेना के जवानों का हौसला भी बढ़ाया। इस दौरान उन्होंने सेना के जवानों से बातचीत की और फोटो भी खिंचवाए। सिंह ने कहा कि हमारे जवान हर चुनौती का सामना करने में सक्षम।

कम हुईं आतंकी घटनाएं
रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि लद्दाख को केंद्रशासित प्रदेश बनाए जाने की मुख्य वजह आतंकवाद, सामाजिक और आर्थिक विकास का ना होना था। लद्दाख को केंद्रशासित प्रदेश बनाए जाने के बाद से यहां आतंकी घटनाए कम हो गई हैं।

राजनाथ सिंह ने कहा- लद्दाख में वीरता के कई किस्से हैं। देश उन लोगों को कभी नहीं भूलेगा जिन्होंने इसके लिए अपनी जान दे दी। मैं आपको आश्वस्त करना चाहता हूं कि भारत सरकार सशस्त्र बलों की सभी जरूरतों को पूरा करेगी।

यह भी पढ़ेंः रक्षामंत्री राजनाथ सिंह चीन सीमा से जोड़ने वाले चार पुलों का करेंगे लोकार्पण, जानिए क्यों हैं खास

लद्दाख के विकास के लिए उठाए कई कदम
केंद्र की ओर से लद्दाख के विकास के लिए कई कदम उठाए गए हैं, जिससे यहां निवेश बढ़े और यहां का इंफ्रास्ट्रक्चर बेहतर हो।

बता दें कि राजनाथ सिंह ने लद्दाख में बॉर्डर रोड ऑर्गेनाइजेशन की ओर से 63 इंफ्रा प्रोजेक्ट को उद्धाटन किया है। इस मौके पर बोलते हुए राजनाथ सिंह ने कहा कि देश के विकास में कनेक्टिविटी सबसे बड़ी भूमिका निभाती है। बीआरओ ने इस दिशा में देश को जोड़ने के लिए महत्वपूर्ण योगदान दिया है।

धीरज शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned