रूस: इंसानों में बर्ड फ्लू वायरस का पहला मामला सामने आया, सात लोग संक्रमित

Highlights

  • वैज्ञानिक पापोवा के अनुसार नमूने को डब्ल्यूएचओ भेज दिया गया है।
  • संक्रमित लोगों में किसी भी तरह के गंभीर खतरा नहीं देखा गया है।

मास्को। रूस में इंसानों में बर्ड फ्लू के वायरस प्रवेश करने का पहला मामला सामने आया है। रूस के स्वास्थ्य विभाग ने इस बात की पुष्टि की है। रूस के रिसर्च सेंटर वेक्टर के वैज्ञानिकों ने शनिवार को बड़ी जानकारी देते हुए कहा कि एक पोल्ट्री फार्म के सात कर्मी बर्ड फ्लू से संक्रमित पाए गए हैं। संक्रमित लोगों में किसी भी तरह के गंभीर खतरा नहीं देखा गया है।

Coronavirus: रिपोर्ट में दावा, फाइजर वैक्सीन की पहली खुराक 85 फीसदी तक प्रभावी

वैज्ञानिक अन्ना पपोवा के अनुसार दिसंबर के माह में रूस के दक्षिण में एक पोल्ट्री में इस महामारी ने दस्तक दी थी। वहीं काम करने वाले सात लोग इस वायरस की चपेट में बताए जा रहे हैं। पापोवा के अनुसार नमूने को डब्ल्यूएचओ भेज दिया गया है।

इंसानों में बर्ड फ्लू पहुंचने का पहला मामला

पापोवा के अनुसार यह विश्व में पहला मामला है, जब बर्ड फ्लू का वायरस मनुष्य में प्रवेश कर गया हो। उन्होंने बताया कि यह पक्षी के लिए तो बेहद खतरनाक है, मगर अब ये देखना होगा कि यह मनुष्य पर किस तरह का प्रभाव डालता है। उन्होंने कहा कि अगर यह मनुष्य से मनुष्य में म्युटेट करता है तो खतरनाक स्थिति उत्पन्न हो सकती है।

डब्ल्यूएचओ के अनुसार, आमतौर पर लोग जानवरों या दूषित वातावरण के कारण संक्रमित हो तो जाते हैं, लेकिन मनुष्यों में कोई निरंतर संचरण नहीं होता है।

coronavirus
Mohit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned