देश में सात और कोरोना वैक्सीन का चल रहा है क्लीनिकल ट्रायल: डॉ. हर्षवर्धन

राजधानी दिल्ली में दिल्ली हर्ट एवं लंग इस्टीट्यूट में कोरोना वैक्सीन की दूसरी खुराक लेने के बाद केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने कहा कि दो दर्जन से अधिक वैक्सीन अभी प्री-क्लीनिकल ट्रायल के चरण में है।

नई दिल्ली। कोरोना महामारी के बढ़ते प्रकोप से एक बार फिर चिंताएं बढ़ गई हैं, हालांकि तेजी के साथ हो रहे कोरोना टीकाकरण से उम्मीदें भी बढ़ी है। अब मंगलवार को एक और खुशखबरी सामने आई है। दरअसल, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने बताया कि देश में कोरोना के खिलाफ लड़ाई के लिए सात और वैक्सीन का क्लीनिकल ट्रायल चल रहा है। सबसे अच्छी बात ये है कि इनमें से कई का ट्रायल एडवांस अवस्था में पहुंच गया है।

उन्होंने राजधानी दिल्ली में दिल्ली हर्ट एवं लंग इस्टीट्यूट में कोरोना वैक्सीन की दूसरी खुराक लेने के बाद ये बातें कही। उन्होंने बताया कि दो दर्जन से अधिक वैक्सीन अभी प्री-क्लीनिकल ट्रायल के चरण में है। बता दें कि डॉ. हर्षवर्धन ने कोरोना वैक्सीन की पहली खुराक 2 मार्च को ली थी।

यह भी पढ़ें :- AIMIM चीफ असदुद्दीन ओवैसी ने लगवाया कोरोना टीका, पर नहीं बताया Covishield या Covaxin?

डॉ. हर्षवर्धन ने कहा कि कोरोना के हालात अभी नियंत्रित नहीं हुए हैं, ऐसे में सख्ती के साथ कोविड-19 के नियमों व गाइडलाइन का पालन किया जाना चाहिए। हमें किसी भी तरह से लापरवाही नहीं बरतनी है। उन्होंने कहा कि देश में बने कोरोना वैक्सीन पूरी तरह से सुरक्षित और प्रभावी हैं। सोशल मीडिया (वॉट्सऐप) पर चल रहे किसी भी अफवाह पर ध्यान न दें और टीका जरूर लगवाएं। हर्षवर्धन ने बताया कि देश के 430 जिलों में पिछले 28 दिनों से कोई संक्रमित नहीं पाया गया है।

देश में अब तक 1.62 लाख से अधिक की मौत

आपको बता दें कि कोरोना महामारी की दूसरी लहर देश के कई राज्यों में देखी जा रही है। दिल्ली, महाराष्ट्र, गुजरात, राजस्थान, पंजाब, छत्तीसगढ़, तमिलनाडु आदि राज्यों में हर दिन सैंकड़ों की संख्या में नए मामले दर्ज कि एजा रहे हैं। इन राज्यों में बहुत ही तेजी के साथ कोरोना के नए केस बढ़ रहे हैं।

यह भी पढ़ें :- 1 अप्रैल से कोई भी लगवा सकेगा कोरोना वैक्सीन, 45 से ज्यादा उम्र और रजिस्ट्रेशन जरूरी

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, पिछले 24 घंटों में देशभर में कोरोना के 56,211 नए मामले दर्ज किए गए हैं, जबकि इस दौरान 271 लोगों की मौत हुई है। इसके साथ ही देश में अब कुल कोरोना मरीजों की संख्या बढ़कर 1 करोड़ 20 लाख 95 हजार 855 हो गई है। वहीं मरने वालों की संख्या 1 लाख 62 हजार 114 पहुंच गई है।

देश में सक्रिय मामलों की कुल संख्या 5 लाख 40 हजार 720 है, जबकि 1 करोड़ 13 लाख 93 हजार 21 लोग स्वस्थ हो चुके हैं। भारत में वर्तमान समय में दो स्वदेशी वैक्सीन (कोवैक्सीन और कोविशील्ड) को टीकाकरण के लिए मंजूरी दी गई है। 16 जनवरी से देशभर में इन्हीं दोनों वैक्सीन का टीका लगाया जा रहा है।

Anil Kumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned