scriptShiv Sena defends Rahul Gandhi on statement given on Emergency | इमरजेंसी पर दिए बयान का शिवसेना ने किया बचाव, राहुल को सरल और खुले दिल वाला बताया | Patrika News

इमरजेंसी पर दिए बयान का शिवसेना ने किया बचाव, राहुल को सरल और खुले दिल वाला बताया

Highlights

  • मुख्यपत्र सामना में कहा कि इमरजेंसी का मुद्दा पुराना हो चुका है।
  • आरोप लगाया कि भाजपा के लोग आज भी इमरजेंसी के नाम पर चक्की पीस रहे हैं।

नई दिल्ली

Published: March 07, 2021 06:16:30 pm

नई दिल्ली। कांग्रेस नेता राहुल गांधी के बीते दिनों इमरजेंसी को गलत बताने वाले बयान पर शिवसेना ने रविवार को अपनी प्रतिक्रिया दी है। शिवसेना ने मुखपत्र सामना के अनुसार राहुल गांधी को सरल और खुले दिल वाला बताया है।शिवसेना ने मुखपत्र सामना के अनुसार राहुल गांधी को सरल और खुले दिल वाला बताया है
udhav thakery
West Bengal: ब्रिगेड ग्राउंड में गरजे पीएम, कहा-ममता सिर्फ एक ही भतीजे की बुआ तक सीमित क्यों?

साथ ही कहा कि इमरजेंसी का मुद्दा पुराना हो चुका है। जनता इंदिरा गांधी को सबक सिखा चुकी है और बाद में माफी देते हुए वापस सत्ता भी सौंपी। शिवसेना ने कहा कि बार-बार इमरजेंसी के मुद्दे को ही क्यों पीसना है।
शिवसेना के अनुसार इमरजेंसी में जिन लोगों को परेशानी हुई, लोगों को जो जुल्म सहना पड़ा, उस पर इंदिरा गांधी ने खेद प्रकट किया है। उन्होंने खुले तौर पर कहा कि इमरजेंसी फिर से लागू नहीं की जाएगी।
शिवसेना के अनुसार आज की स्थिति को देखकर यह कहना गलत नहीं होगा कि इमरजेंसी ठीक थी। मुखपत्र सामना के कॉलम में लिखा, ''इमरजेंसी की घटना गलत थी, यह मेरी दादी ने माना है। अभी के समय में देश की परिस्थिति उस समय की तुलना में पूरी तरह से अलग है, ऐसा मत राहुल गांधी ने व्यक्त किया है। राहुल गांधी सरल एवं खुले दिलवाले हैं।
इमरजेंसी पर उन्होंने सहजता से बोल दिया और उस पर पिसाई शुरू हो गई, चर्चा शुरू हो गई।'' उस समय का जिन पर साया भी नहीं पड़ा, ऐसे लोग मंत्रिमंडल में हैं। शिवसेना ने आरोप लगाया कि भाजपा के लोग आज भी इमरजेंसी के नाम पर चक्की पीस रहे हैं और इस पर आश्चर्य होता है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

कोरोना: शनिवार रात्री से शुरू हुआ 30 घंटे का जन अनुशासन कफ्र्यूशाहरुख खान को अपना बेटा मानने वाले दिलीप कुमार की 6800 करोड़ की संपत्ति पर अब इस शख्स का हैं अधिकारजब 57 की उम्र में सनी देओल ने मचाई सनसनी, 38 साल छोटी एक्ट्रेस के साथ किए थे बोल्ड सीनMaruti Alto हुई टॉप 5 की लिस्ट से बाहर! इस कार पर देश ने दिखाया भरोसा, कम कीमत में देती है 32Km का माइलेज़UP School News: छुट्टियाँ खत्म यूपी में 17 जनवरी से खुलेंगे स्कूल! मैनेजमेंट बच्चों को स्कूल आने के लिए नहीं कर सकता बाध्यअब वायरल फ्लू का रूप लेने लगा कोरोना, रिकवरी के दिन भी घटेCM गहलोत ने लापरवाही करने वालों को चेताया, ओमिक्रॉन को हल्के में नहीं लें2022 का पहला ग्रहण 4 राशि वालों की जिंदगी में लाएगा बड़े बदलाव

बड़ी खबरें

भारत के कोरोना मामलों में आई गिरावट, पर डरा रहा पॉजिटिविटी रेटअरुणाचल प्रदेश में भूकंप के झटके, रिक्टर पैमाने पर 4.9 मापी गई तीव्रताभारत में निवेश का बेहतरीन समय, अगले 25 साल का प्लान बना सकते हैं- दावोस सम्मेलन में बोले पीएम मोदीPunjab Election 2022: अरविंद केजरीवाल आज करेंगे 'आप' के सीएम उम्मीदवार का ऐलानCorona Vaccination: 12 से 14 साल तक के बच्चों को मार्च से लगेंगे टीकेUP Police Recruitment 2022: 10 वीं पास युवाओं को सरकारी नौकरी का मौका, यूपी पुलिस ने निकाली भर्ती, 69,100 रुपये मिलेगी सैलरीOmicron Symptoms: ओमिक्रॉन के ये लक्षण जिसके बारे में आपको भी पता होना चाहिए,जानिए कितने दिनों तक रहते हैं ये शरीर मेंवोटर आईडी को आधार से घर बैठे करें लिंक, जानिये सबसे आसान तरीका
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.