सुप्रीम कोर्ट ने कोरोना संकट पर जताई चिंता, केजरीवाल सरकार दाखिल करे स्टेटस रिपोर्ट

  • जस्टिस अशोक भूषण की पीठ ने दिल्ली और गुजरात सरकार की खिंचाई की।
  • कोरोना वायरस संक्रमण के विस्तार को लेकर शीर्ष अदालत ने जताई चिंता।

नई दिल्ली। देशभर में गहराते कोरोना संकट को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने सोमवार को गहरी चिंता जताई है। देश की शीर्ष अदालत ने कहा कि कोरोना वायरस का बेकाबू होना चिंता का विषय है। जस्टिस अशोक भूषण की अध्यक्षता वाली संवैधानिक पीठ ने दिल्ली, महाराष्ट्र, गुजरात असम की सरकारों से कोरोना वायरस की वर्तमान स्थिति और उठाए गए कदमों को लेकर हलफनामा दायर करने को कहा है। जस्टिस अशोक भूषा ने कोरोना की खराब स्थिति के लिए गुजरात और दिल्ली सरकार की खिंचाई भी की है।

बता दें कि ठंड के साथ ही कोरोना संकट पहले से ज्यादा गहराता जा रहा है। केंद्र और राज्य सरकारों ने कोरोना को नियंत्रित करने के लिए कई प्रभावी कदम उठाए हैं। दिल्ली सरकार ने तो फेस मास्क नहीं पहनने पर जुर्माने की राशि बढ़ाकर 2000 रुपए कर दिया है। कोरोना नियंत्रण के काम में जुटे सभी सरकारी व निजी एजेंसियों को जरूरी एहतियात बरतने के निर्देश दिए हैं। इसी तरह गुजरात सरकार ने अहमदाबाद और सूरत सहित कई शहरों में नाइट कर्फ्यू भी लगा दिया है।

COVID-19 Coronavirus Pandemic
Dhirendra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned