Quarantine Centers टीचरों की लगी ड्यूटी, COVID प्रोटोकॉल के बारे में दी जाएगी जानकारी

Highlights
- क्वारंटीन सेंटर ( Una Quarantine Centers) व अंतर्राज्यीय बैरियरों (Interstate barriers) पर शिक्षकों की ड्यूटी लगेगी
- इसके अलावा रेलवे स्टेशन (Railway STation) पर भी अध्यापकों की तैनाती की जाएगी
- यह फैसला हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) के ऊना (Una) में लिया गया है


नई दिल्ली. कोरोना वायरस (Coronavirus in india) महामारी को रोकने के लिए देशभर में क्वारंटीन सेंटर ( Una Quarantine Centers) बनाए गए। अब इन क्वारंटीन सेंटर ( Una Quarantine Centers) व अंतर्राज्यीय बैरियरों (Interstate barriers) पर शिक्षकों की ड्यूटी लगेगी। इसके अलावा रेलवे स्टेशन (Railway STation) पर भी अध्यापकों की तैनाती की जाएगी। यह फैसला हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) के ऊना (Una) में लिया गया है।

इसके तहत ऊना मंडल के 50 से अधिक शिक्षकों की तैनाती की जा रही है। इसके साथ ही तैनात किए गए शिक्षा विभाग के अध्यापकों को कोरोना वायरस प्रोटोकॉल की जानकारी देने के लिए एक बैठक की गई। यह बैठक ऊना बचत भवन में की गई। इसकी अध्यक्षता उपायुक्त ऊना संदीप कुमार ने की।

बैठक में उपायुक्त ने कहा कि कोरोना संकट की शुरुआत से राजस्व अधिकारी अंतर्राज्यीय बैरियर, क्वारंटीन केंद्रों तथा रेलवे स्टेशन पर सेवाएं देते आ रहे हैं, लेकिन अब प्रदेश सरकार ने राजस्व कार्यालयों को खोलने के आदेश जारी कर दिए हैं, जिसे देखते हुए सभी राजस्व अधिकारियों को इन सेवाओं से वापस बुलाया जा रहा है तथा उनके स्थान पर अध्यापकों की तैनाती की जा रही है।

बैठक में दिए गए ये निर्देश


- बैठक में अध्यापकों को कोविड प्रोटोकॉल के बारे में विस्तार से जानकारी दी गई।
- बताया गया कि सिर्फ 5 वर्ष से कम, 80 वर्ष से अधिक आयु के व्यक्तियों तथा गर्भवती महिलाओं को ही होम क्वारंटीन किया जाएगा।
- जिन शहरों में अभी भी कोरोना संक्रमण अधिक है, वहां से आने वाले लोगों को जिला प्रशासन अनिवार्य रूप से संस्थागत क्वारंटीन कर रहा है।

राजस्व कर्मी लौटेंगे दफ्तर

संदीप कुमार ने कहा कि दो-तीन दिन तक अभी राजस्व अधिकारी अध्यापकों के साथ अंतर्राज्यीय बैरियर, क्वारंटीन केंद्रों तथा रेलवे स्टेशन पर ड्यूटी देते रहेंगे, ताकि उन्हें प्रोटोकॉल की पूरी जानकारी मिल जाए। इसके बाद राजस्व अधिकारी अपने कार्य पर लौट आएंगे।

ये लोग रहे बैठक में शामिल

बैठक में एसडीएम ऊना डॉ. सुरेश जसवाल, सहायक आयुक्त डॉ. रेखा कुमार, तहसीलदार विजय राय, सीएमओ डॉ. रमण कुमार शर्मा, डीआरओ विद्याधर नेगी, एसडीएम हरोली गौरव चौधरी, सीडीपीओ कुलदीप दयाल तथा एएसपी विनोद कुमार धीमान भी उपस्थित रहे।

Ruchi Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned