त्रिपुरा: शादी समारोह में बदसलूकी करने वाले डीएम शैलेश यादव के खिलाफ कार्रवाई, सस्पेंड किया

सीएम बिप्लब देब के हस्तक्षेप के बाद डीएम पर कार्रवाई की गई है। डीएम के खिलाफ भाजपा विधायकों ने प्रदर्शन किया था।

नई दिल्ली। पश्चिमी त्रिपुरा के एक शादी समारोह में लोगों से बदसलूकी करने वाले जिलाधिकारी शैलेश यादव पर गाज गिरी है। डीएम द्वारा की गई बदसलूकी का वीडियो वायरल होने के बाद अब उन्हें सस्पेंड कर दिया गया है। सीएम बिप्लब देब के हस्तक्षेप के बाद डीएम पर कार्रवाई की गई है। डीएम के खिलाफ भाजपा विधायकों ने प्रदर्शन किया था।

डीएम का वीडियो वायरल

गौरतलब है कि बुधवार को डीएम शैलेश यादव ने पश्चिमी त्रिपुरा के एक मैरिज हॉल में छापेमारी मारी थी। डीएम इस शादी समारोह में पूरी पुलिस फोर्स के साथ यहां पहुंचे थे। इस दौरान डीएम शैलेश यादव ने लोगों के साथ बदसलूकी की। पुलिसकर्मियों ने लोगों पर डंडे भी बरसाए।

Read More: जम्मू और कश्मीर में कोरोना से निपटने के लिए सात दिनों का लॉकडाउन लगाने की मांग, सरकार को दिए ये सुझाव

इस वायरल वीडियो में डीएम शैलेश यादव बेहद गुस्से में थे। वे इस दौरान वो पुलिसकर्मियों को फटकार लगाते भी दिखाई दिए। वीडियो में देखा गया कि वे पुलिसकर्मियों से दुल्हा-दुल्हन सहित पूरी भीड़ को हॉल से बाहर निकालने के लिए कहते हैं। इसके साथ सभी लोगों के खिलाफ महामारी आपदा कानून के तहत मामला दर्ज करने को कहा।

वीडियो पर कड़ी आपत्ति जताई

गौरतलब है कि डीएम की बदसलूकी का वीडियो वायरल होने के बाद से उनकी जमकर आलोचना हो रही है। सोशल मीडिया पर आम लोगों ने डीएम के रवैये के खिलाफ आवाज उठाई है। कई यूजर्स ने इस वीडियो पर कड़ी आपत्ति जताई है। यूजर्स ने कहा कि प्रशासन को कार्रवाई के लिए आम लोग ही दिखते हैं, नेता नहीं।

Read More: उत्तर प्रदेश सबसे अधिक कोविड टेस्ट करने वाला पहला राज्य बना : सीएम योगी

तुरंत माफी मांगी

वीडियो वायरल होने के बाद जिलाधिकारी शैलेश यादव ने तुरंत माफी मांग ली है। उन्होंने सफाई दी कि उनका उद्देश्य किसी की भावना को आहत करना नहीं था। वहीं सीएम बिप्लब कुमार देव ने मुख्य सचिव मनोज कुमार से घटना को लेकर रिपोर्ट तलब करने को कहा था।

Mohit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned