Budget 2021: बजट का इंतजार, लगातार टूट रहा बाजार

  • सेंसेक्स और निफ्टी में करीब 2 फीसदी की गिरावट
  • चार दिन में सेंसेक्स ने 2000 से अधिक अंक खोए
  • निफ्टी 4 जनवरी के बाद पहली बार 14 हजार से नीचे

नई दिल्ली। बजट ( Budget 2021 ) से पहले बाजार में लगातार चौथे दिन मुनाफा वसूली हावी रही। बुधवार को सेंसेक्स और निफ्टी करीब 2 फीसदी टूटकर बंद हुए हैं। बुधवार के करोबार में सेंसेक्स 93७.६६ अंक यानी 1.94 फीसदी टूटकर 47,409.93 के स्तर पर बंद हुआ है। वहीं 4 जनवरी के बाद पहली बार निफ्टी 14,000 के नीचे फिसलकर बंद हुआ है। निफ्टी 13967.5 अंक पर बंद हुआ। सेंसेक्स में पिछले चार दिन में २००० से ज्यादा अंक नीचे गिरा है।

सेंसेक्स के 30 शेयरों में से 23 गिरावट के साथ बंद हुए। शेयर बाजार में लगातार चौथे सत्र में गिरावट आई है। डॉ. रेड्डीज लैब, सन फार्मा, टाइटन, आइसीआइसीआई बैंक और एचडीएफसी बैंक के शेयरों में 3 फीसदी से अधिक गिरावट आई। निफ्टी के सभी सेक्टोरल इंडेक्स गिरावट के साथ बंद हुए। निफ्टी बैंक इंडेक्स में सबसे अधिक 3 फीसदी की गिरावट आई।

दिन निकलते ही इस दिग्गज नेता का हुआ निधन, देशभर में शोक की लहर

bud1.jpg

गिरावट के प्रमुख कारण

- दुनियाभर के बाजारों में सुस्त कारोबार हुआ। दोपहर बाद खुला यूरोपियन मार्केट भी सपाट कारोबार कर रहा है।
- केंद्रीय बजट एक फरवरी के पेश होगा। इससे पहले निवेशक नर्वस हैं। माना जा रहा है कि बजट बाजार के लिए अच्छा नहीं होगा।
- इससे पहले बाजार में लगातार तेजी थी। बजट से पहले निवेशक ऊंचे भाव शेयर बेचकर मुनाफा कमा रहे हैं।
- रिलायंस, टीसीएस, एचडीएफसी बैंक, बजाज फाइनेंस के शेयरों में गिरावट रही। इसका असर इंडेक्स पर भी दिखा।
- 1.9 ट्रिलियन डॉलर के बाइडेन के कोरोना रिलीफ प्लान पर भी सभी की नजरें हैं।

दिग्गज शेयरों का हाल

दिग्गज शेयरों की बात करें, तो बुधवार को टेक महिंद्रा, अल्ट्राटेक सीमेंट, आईटीसी, विप्रो और एसबीआइ लाइफ के शेयर हरे निशान पर बंद हुए। वहीं, टाटा मोटर्स, टाटा स्टील, टाइटन, हिंडाल्को और इंडसइंड बैंक के शेयर लाल निशान पर बंद हुए।

एफएमसीजी को छोड़ सभी डूबे

सेक्टोरियल इंडेक्स पर नजर डालें, तो बुधवार को एफएमसीजी के अतिरिक्त सभी सेक्टर्स लाल निशान पर बंद हुए। इनमें फार्मा, मेटल, फाइनेंस सर्विसेज और बैंक ऑटो, आईटी, पीएसयू बैंक, मीडिया, प्राइवेट बैंक और रियल्टी शामिल हैं।

कमाना है फायदा, टैक्स का है डर

बाजार की इस गिरावट के पीछे दो प्रमुख कारण हैं। एक तो यह कि ज्यादा बढ़ चुके बाजार में अब बजट से पहले कमाई हो रही है। दूसरी बात इस गिरावट से ऐसी उम्मीद है कि बजट में बाजार या इससे जुड़े सेक्टर के लिए कोई अच्छी घोषणा होनी मुश्किल है। साथ ही सरकार कई तरह के नए टैक्स लगा सकती है। इसलिए निवेशक इस समय बाजार में पूरी सतर्कता के साथ कारोबार कर रहे हैं।


60 फीसदी शेयरों में गिरावट

बीएसई पर 3,063 शेयरों में कारोबार हुआ। 1,073 शेयरों में बढ़त और 1,840 में गिरावट रही। यानी 60 प्रतिशत शेयरों में गिरावट आई है। चौतरफा गिरावट के चलते एक्सचेंज में लिस्टेड कंपनियों का कुल मार्केट 2.6 लाख करोड़ रुपए घटकर 189.59 लाख करोड़ रुपए रह गया है।

जय श्री राम के नारे से नाराज ममता बनर्जी उठा सकती है बड़ा कदम, जानिए क्यों कांग्रेस और सीपीएम ने किया किनारा

यूं गिरता गया बाजार

तारीख सेंसेक्स
20 जनवरी 49792
21 जनवरी 49642
22 जनवरी 48878
25 जनवरी 48347
27 जनवरी 47410

निफ्टी के टॉप-5 गिरने वाले शेयर

कंपनी

बंद भाव

गिरावट (प्रतिशत में)

टाटा मोटर्स

266.75

4.44

टाटा स्टील 624.05 4.28
टाइटन 1,437.00 4.19
इंडसइंड बैंक 815.00 4.02
हिंडाल्को 230.75 3.97
Budget 2021 Nirmala Sitharaman
Show More
धीरज शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned