Weather Alert: दिल्ली-एनसीआर के तमाम हिस्सों में भारी बारिश, मंगलवार तक रहेगी जारी

  • भारतीय मौसम विभाग ( Indian Met Department ) के मुताबिक रविवार सुबह दिल्ली-एनसीआर में हुई भारी ( heavy rainfall in delhi ncr ) बारिश।
  • weather alert: अगले दो दिन यानी मंगलवार तक दिल्ली ( monsoon rain ), हरियाणा आदि इलाकों में होगी बारिश।
  • दिल्ली में जुलाई में अब तक सामान्य से 56 फीसदी कम बारिश ( Delhi rains ) हुई है।

 

नई दिल्ली। दिल्ली-एनसीआर के कई हिस्सों में रविवार को तड़के बिजली की गरज के साथ बौछारें पड़ने के बाद अछ्छी बारिश ( Delhi rains ) हुई। भारतीय मौसम विभाग ने मंगलवार तक और अधिक बारिश की भविष्यवाणी ( weather alert ) की है।

आखिर होने क्या वाला है? महज 19 घंटे में 11 बार भूकंप से दहला भारत

भारत मौसम विज्ञान विभाग ( Indian Met Department ) ने कहा कि रविवार सुबह राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली समेत आदमपुर, हिसार, हांसी, जींद, गोहाना, गन्नौर, बड़ौत, रोहतक, सोनीपत, बागपत, गुरुग्राम, नोएडा, गाजियाबाद और फरीदाबाद के साथ ही आसपास के इलाकों में गरज के साथ आंधी आई और बारिश ( heavy rainfall in delhi ncr ) हुई।

मौसम विभाग ने मंगलवार तक राष्ट्रीय राजधानी और आसपास के क्षेत्रों में बारिश के साथ गरज के साथ छींटे पड़ने का अनुमान ( weather forecasting ) लगाया है। आईएमडी के मुताबिक, "19 जुलाई को हरियाणा, चंडीगढ़ और दिल्ली में अलग-अलग स्थानों पर भारी से बहुत भारी बारिश हुई।"

आईएमडी के क्षेत्रीय पूर्वानुमान केंद्र के प्रमुख कुलदीप श्रीवास्तव ने कहा, "मानसून ( monsoon rain ) का प्रवाह अब उत्तर की ओर खिसकने लगा है। अगले दो दिनों में दिल्ली में हल्की से मध्यम बारिश की उम्मीद है।" हालांकि, श्रीवास्तव ने कहा कि राजधानी में एक हफ्ते तक अच्छी बारिश नहीं होगी।

आईएमडी के अनुसार दिल्ली में जुलाई में अब तक 47.9 मिमी बारिश दर्ज की गई है, जो 109.4 मिमी की सामान्य बारिश से 56 फीसदी कम है।

मौसम की भविष्यवाणी करने वाली एजेंसियों ने कहा है कि दिल्ली और इसके आसपास के राज्यों पंजाब और हरियाणा में रविवार से बारिश के मौसम में लगातार बरसात होने की संभावना है क्योंकि मानसून के गर्त का अपने सामान्य स्थिति में आने की संभावना है।

निजी एजेंसी स्काईमेट वेदर ने कहा कि जुलाई की शुरुआत से ही उत्तरी मैदानी इलाकों में केवल कहीं-कहीं बारिश हुई है। मानसून की गर्त उत्तर और दक्षिण के बीच (हिमालय की तलहटी की ओर और यहां से दूर) आ-जा रही है।

स्काईमेट वेदर ने कहा कि मानसून की गर्त उत्तर की ओर बढ़ेगी और अगले तीन से चार दिनों तक स्थिर रहेगी। इसके साथ ही दिल्ली, हरियाणा और पंजाब में 19 जुलाई से 21 जुलाई तक बारिश में उल्लेखनीय वृद्धि की उम्मीद की जा सकती है।

राजधानी में शनिवार को अधिकतम तापमान 36.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया जो सामान्य से तीन डिग्री अधिक है वहीं, आद्रता का स्तर 89 फीसदी % तक बढ़ा है।

अमित कुमार बाजपेयी
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned