Weather Update: देश के कई राज्यों में अगले 24 घंटों में भारी बारिश के आसार, आईएमडी ने जारी किया अलर्ट

  • Weather Update देश के कई इलाकों में सक्रिय है मानसून गतिविधियां
  • बंगाल की खाड़ी में बन रहा कम दबाव का क्षेत्र, तटीय इलाकों में झमाझम बारिश के आसार
  • मछुआरों को समुद्र में ना जाने की दी गई सलाह

नई दिल्ली। देशभर में मौसम का मिजाज ( weather update ) एक बार फिर बदलने जा रहा है। मानसून भले ही अपने अंतिम पड़ाव में पहुंच गया हो, लेकिन अभी पूरी तरह खत्म नहीं हुआ है। भारतीय मौसम विज्ञान विभाग ( IMD ) ने एक बार फिर देश के कई इलाकों में भारी बारिश को लेकर अलर्ट जारी किया है। दरअसल उत्तरी अंडमान सागर के ऊपर बन रहे कम दबाव के क्षेत्र के चलते देश के तटीय इलाकों में एक बार फिर बारिश के आसार बन रहे हैं।

कम दबाव के क्षेत्र के और मजबूत होने और पूर्वी तट की ओर बढ़ने से ओडिशा से लेकर आंध्र प्रदेश के तट तक और कर्नाटक एवं तेलंगाना में अगले 24 घंटों में भारी बारिश की संभावना बन रही है।

बिहार चुनाव में ताल ठोंकने को तैयार शिवसेना, जानें कितनी सीटों पर लड़ेगी चुनाव और कौन-कौन रहेंगे स्टार प्रचारक

मौसम एक बार फिर करवट लेने जा रहा है। आमतौर पर मानसून सितंबर के अंत तक पूरी तरह वापसी कर लेता है। लेकिन इस बार मानसूनी गतिविधियां कुछ दिन आगे बढ़ गई हैं। हालांकि कई राज्यों खास तौर पर उत्तर भारत में मानसून पूरी तरह बिदा हो चुका है, लेकिन अब तक कुछ इलाके ऐसे हैं जहां सक्रिय नजर आ रहा है।

आईएमडी के मुताबिक कुछ इलाकों में कम दबाव का क्षेत्र शनिवार सुबह तक बनेगा और इसका सीधा असर अगले 24 घंटों में दिखाई देगा। यानी रविवार और सोमवार को दक्षिण भारत के कई राज्यों में झमाझम बारिश पड़ने के आसार हैं।

चक्रवात का पहला चरण
दरअसल कम बदलाव का क्षेत्र बनना ही चक्रवात का पहला चरण माना जाता है। यानी इस बार चक्रवाती तूफानों के ज्यादा बनने की भी आशंका है। हालांकि ये भी जरूरी नहीं है कि हर बार कम दबाव का क्षेत्र चक्रवात में ही तब्दील हो। लेकिन ज्यादा ऐसा देखने को मिलता है कि जब कम दबाव के क्षेत्र बनते हैं तो ये आगे जाकर चक्रवात का रूप लेते हैं।

इन इलाकों में बारिश के आसार
मौसम विभाग के मुताबिक अगले 24 घंटों में ओडिशा के तटीय इलाकों में भारी बारिश के संकेत हैं। इसके अलावा आंध्र प्रदेश, कर्नाटक, तमिलनाडु और तेलंगाना के भी हिस्सों में अच्छी बारिश की संभावना बनी हुई है।

यही नहीं कम दबाव वाले क्षेत्र के प्रभाव और चक्रवाती हवा की वजह से अधिकतर इलाकों और अंडमान-निकोबार द्वीपसमूह के कुछ इलाकों में शनिवार को मध्यम से भारी बारिश होने की संभावना है।

यहां शनिवार से शुरू होगी बारिश
आईएमडी के मुताबिक शनिवार से ओडिशा, तटीय आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, रायलसीमा, भीतरी कर्नाटक और मराठवाड़ा में बदरा बरसना शुरू हो जाएंगे।

वहीं रायलसीमा को छोड़ बाकी इलाकों में रविवार और सोमवार को तेज बारिश के आसार बने हुए हैं। मौसम विभाग ने बताया कि समुद्र के भी अशांत रहने की उम्मीद है ऐसे में मछुआरों को लेकर कोई अलर्ट जारी नहीं किया गया है।

अंडमान सागर में ना जाने की सलाह
वैसे तो समुद्र के शांत रहने की उम्मीद है, लेकिन रविवार तक मछुआरों को अंडमान सागर और पूर्वी मध्य बंगाल की खाड़ी में नहीं जाने की सलाह दी गई है।

इसके साथ ही ओडिशा, आंध्र प्रदेश, पुडुचेरी और तमिलनाडु के अपतटीय क्षेत्र में भी रविवार से सोमवार दोपहर तक मछुआरों को नहीं जाने को सलाह दी गई है।

झारखंड कोर्ट से जमानत मिलने के बाद भी खुश नहीं है लालू प्रसाद यादव, जानें पीछे की वजह

उत्तर भारत में बढ़ रही सर्द हवाएं
आपको बता दें कि एक तरफ बंगाल की खाड़ी में निम्न दबाव का क्षेत्र बन रहा है तो दूसरी तरफ पहाड़ी इलाकों में हल्की बर्फबारी के बाद उत्तर भारत के कई इलाकों में सर्द हवाएं बढ़ने लगी हैं। राजधानी दिल्ली समेत हरियाणा, पंजाब, राजस्थान, उत्तर प्रदेश में सुबह और रात का मौसम हल्का सर्द हो चला है। यहां दिन के तापमान में भी गिरावट दर्ज की जा रही है।

IMD alert weather update Weather forecast
Show More
धीरज शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned